स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

महालक्ष्मी का अद्भूत स्वर्णाभूषण से शृंगार भक्तों को खींच लाया रतलाम

Gourishankar Jodha

Publish: Oct 22, 2019 13:27 PM | Updated: Oct 22, 2019 18:03 PM

Ratlam

महालक्ष्मी की आस्था ऐसे शृंगार करने मुंबई-बंैगलरू से आई महिला भक्त

रतलाम। विश्व प्रसिद्ध रतलाम की प्राचीन महालक्ष्मी मंदिर के प्रति लोगों की आस्था और भक्ति देखते ही बनती है। महालक्ष्मी मंदिर पर पांच दिवसीय दीपोत्सव धनतेरस से मनाया जाएगा, इसके पूर्व ही भक्तों का अन्य राज्यों से आना और माता मंदिर में सेवा देने का सिलसिला शुरू हो चुका है। महालक्ष्मी के भक्तों की आस्था और संख्या भी दिन पर दिन बढ़ती जा रही है। प्रदेश ही नहीं अन्य राज्यों से भी बड़ी संख्या में भक्त दर्शनार्थ मंदिर पहुंचने लगे हैं। गत दिवस युटूब पर रतलाम की महालक्ष्मी के अद्भूत शृंगार के दर्शन कर दो महिला भक्त सोमवार को रतलाम चली आई, दोनों ने यहां होटल में कमरा लिया और माता मंदिर पर सेवा कर शृंगार के लिए तैयार किए जा रहे नोटों की लडिय़ां बनाने में श्रद्धा-भक्ति के साथ जुटी हुई है।

युटूब पर देखा माता का अद्भूत शृंगार
मैं सुजाता बंैगलरू में रहती हूं, हमने रतलाम की महालक्ष्मी का अद्भूत श्रृंगार यूटूब पर देखकर आए है। बरसों से हम सोंच रहे थे यहां आना चाहिए, मैं मुंबई आई मेरी मां-बहन से मिलने आई थी, वहीं से लगा की मुझे यहां भी आना चाहिए। कल हम वहां से निकलकर आज सुबह यहां आ गए। सुबह आकर माता के दर्शन के लिए सभी मंदिरों में ऐसे दर्शन नहीं होते है, बहुत अच्छा लगा यहां आकर, सभी लोग सहयोगात्मक रवैया रखते हैं। आज हमें सेवा का मौका भी माता के शृंगार में हाथ बंटाकर मिला, अपने आप को बहुत खुशनसीब समझते हैं। महालक्ष्मी के हर मंदिर यह शृंगार होना चाहिए।

महालक्ष्मी मंदिर में सेवा मिलना बड़े सौभाग्य की बात
मैं वर्षा नंदकिशोर मुंबई से आई हूं, यू टुब पर रतलाम की महालक्ष्मी के शृंगार को देखा और सुना था, बस इसीलिए दर्शन करने चले आए। मातारानी के खास भक्त है। मैं और मेरी फ्रेंड साथ आई है। आज सुबह से हम यहां माता के शृंगार के लिए नोटो के हार बना रहे हैं बहुत अच्छा लग रहा है। मंदिर आते हैं तो मन को बहुत शांति लगती है, ऐसा अद्भूत शृंगार हर मंदिर पर होना चाहिए, और उनकी सेवा करने को मिलती यह बड़े सौभाग्य की बात है। हर किसी को ऐसा सौभाग्य नहीं मिलता है। हमें मिला है यह हमारे लिए बहुत अच्छी बात है।