स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

मध्यप्रदेश के इस जिले पर अश्विन मास में इंद्रदेव मेहरबान, 65 इंच वर्षा

Gourishankar Jodha

Publish: Sep 22, 2019 12:00 PM | Updated: Sep 22, 2019 12:00 PM

Ratlam

रावटी विकासखंड एक रात में 4 इंच के करीब बारिश

रतलाम। इस वर्ष इंद्रदेव रत्नपुरी मेहरबान है, सावन-भादौ के बाद अश्विन मास में भी पिछले तीन दिन से हर शाम झमाझम बारिश का सिलसिला जारी है। जिले की औसत वर्षा जहां 22 सितंबर की सुबह 8 बजे तक 65 इंच दर्ज हो चुकी थी, जबकि पिछले साल आज दिनांक तक र्मा 30 इंच बारिश हुई थी। दिन में रिमझिम के बाद खिली धूप और शाम को उमस के बाद झमाझम बारिश ने शहर की सड़कों को फिर लबालब कर दिया। रावटी विकासखंड में सर्वाधिक वर्षा बिते 24 घंटे में 4 इंच के करीब दर्ज की गई।

अब तक जिले में कहा कितनी बारिश
भू-अभिलेख विभाग के अनुसार जिले में आलोट में 1853 मिमी, जावरा में 1589 मिमी, ताल में 1854, पिपलौदा-1431 मिमी, बाजना में 1432 मिमी, रतलाम में 1359 मिमी, रावटी में 1931 मिमी बारिश और सैलाना विकासखंड में अब तक 1572 मिमी बारिश हो चुकी है।

वर्षा हर दिन किसानों के लिए आफत
झमाझम बारिश के दौरान दो बत्ती से गुजरने वाले राहगिरों को मुसिबतो का सामना करना पड़ा तो कोई लोगों को वाहन पानी अधिक होने के कारण रास्ते में बंद होते रहे। निचली बस्तियों के लोग अनवरत हो रही बारिश से त्राहीमाम कर चुके हैं, तो किसानों के सिर से संकट के बादल छटने का नाम नहीं ले रहे हैं। सोयाबीन की फसल चहुंओर चौपट हो रही अगली बोवनी के साथ अब पिछले बोवनी वाले किसानों की फसलें भी नुकसानी में आने लगी है।

रावटी में 95 मिमी बारिश
भू-अभिलेख विभाग से मिली जानकारी के अनुसार चालू मानसून सत्र में 22 सितंबर की सुबह 8 बजे तक जिले में औसत 65 इंच वर्षा दर्ज की जा चुकी है। जबकि गत वर्ष इसी अवधि तक जिले में मात्र साडे 30 इंच वर्षा दर्ज की गई थी। 22 सितंबर की सुबह 8 बजे समाप्त हुए 24 घंटों के दौरान आलोट में 6 मिमी, जावरा में 15 मिमी, ताल में 28 मिमी, पिपलौदा में 29 मिमी, बाजना में 10 मिमी, रतलाम में 31 मिमी, रावटी में 95 तथा सैलाना में 22 मिमी वर्षा दर्ज की गई।