स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

इसी माह से रेलवे के कार्मिक विभाग को इंजीनियरिंग विभाग में करेंगे मर्ज

Ashish Pathak

Publish: Dec 09, 2019 18:48 PM | Updated: Dec 09, 2019 18:48 PM

Ratlam

रेल मंडल सहित देशभर में रेलवे के कार्मिक विभाग को इंजीनियरिंग विभाग में मर्ज करने की योजना बनाई गई है। इसके लिए पश्चिम रेलवे व मंडल से प्रस्ताव व कर्मचारियों की जानकारी मांग ली गई है। यह कार्य इसी माह में 15 दिसंबर के बाद कभी भी हो जाएगा।

रतलाम। रेल मंडल सहित देशभर में रेलवे के कार्मिक विभाग को इंजीनियरिंग विभाग में मर्ज करने की योजना बनाई गई है। इसके लिए पश्चिम रेलवे व मंडल से प्रस्ताव व कर्मचारियों की जानकारी मांग ली गई है। इसके बाद जैसे ही इसकी जानकारी रेल संगठन को लगी है, उन्होंने विरोध की योजना ली है। इंजीनियरिंग विभाग में सिविल इंजीनियरिंग, मैकेनिकल व इलेक्टिकल इंजीनियरिंग शामिल है, इनको तो एक किया जा ही जाएगा इसमे कार्मिक विभाग को भी मर्ज किया जाएगा। यह कार्य इसी माह में 15 दिसंबर के बाद कभी भी हो जाएगा।

SBI की नई पहल : करोड़ों ग्राहकों को दे दी बड़ी खुश खबर

[MORE_ADVERTISE1]due to fog train cancel[MORE_ADVERTISE2]

रेलवे में कार्य को चुस्त दूरस्त बनाने का दावा करते हुए व व्यय को कम करने की शुरुआत करते हुए अलग-अलग विभाग व इससे जुड़े कर्मचारियों को एक ही विभाग मे मर्ज करने की योजना पर काम की शुरुआत हो गई है। इस एकत्रिकरण का उद्देश्य में यह कहा जा रहा है कि इससे कार्यक्षमता बेहतर होगी। लेकिन रेल संगठनों का विरोध शुरू हो गया है। इन सब के बीच इस बारे में मंडल से कार्मिक विभाग व तीनों प्रकार के इंजीनियरिंग विभाग के कर्मचारियों की जानकारी मांगी गई है। कार्मिक विभाग में करीब 300 कर्मचारी तो तीनों प्रकार की इंजीनियरिंग विभाग में पांच हजार से अधिक कर्मचारी है। आने वाले दिनों में यह सब एक हो जाएंगे। इसकी घोषणा इसी माह के अंत में होने की बात की जा रही है।

SBI : एसबीआई का अपने करोड़ों ग्राहकों को बड़ा तोहफा

[MORE_ADVERTISE3]Railway
IMAGE CREDIT: Patrika

अब बन गई आंदोलन की योजना

वेस्टर्न रेलवे मजदूर संघ व वेस्टर्न रेलवे एम्प्लायज यूनियन इसके विरोध में उतर गया है। इसके लिए यूनियन व मजदूर संघ के मंडल मंत्री एसबी श्रीवास्तव व बीके गर्ग ने रणनीति बना ली है। विरोध के पहले मंडल के बेरछा, शुजालपुर, सीहोर में इंजीनियरिंग, यातायात, बिजली, संकेत विभाग सहित अन्य विभाग के कर्मचारियों से मिलेंगे। इसके अलावा उज्जैन, चित्तौडग़ढ़, गोधरा से लेकर दाहोद आदि सेक्शन में इसी प्रकार का दौरा आगामी दिनों में तय किया जा रहा है।

रेलवे की पहल : चलती ट्रेन में गार्ड को अटैक, ग्रीन कॉरिडोर बनाकर बचाया

SBI ने लांच की पीओएस मशीन, इस तरह होगा आपको लाभ

रेलवे में परीक्षा के पेटर्न में बदलाव, अब इस तरीके से होगी EXAM

नवाचार : रतलाम में प्लास्टिक कचरे की बिक्री, राशि विकास कार्यों में लगेगी

SBI ने शुरू की यह बड़ी सुविधा, ग्राहकों को होगा बड़ा लाभ

During this train journey of railway, you fast for 24 hours, travelers know why
IMAGE CREDIT: patrika