स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

चार दिन से छाया अंधेरा, रात को बाहर नहीं निकल रहे लोग

Akram Khan

Publish: Sep 19, 2019 18:08 PM | Updated: Sep 19, 2019 18:08 PM

Ratlam

चार दिन से छाया अंधेरा, रात को बाहर नहीं निकल रहे लोग

रतलाम। ग्राम पंचायत लसूडिय़ा जंगली के अंतर्गत आने वाला ग्राम होलड़ी में चार दिनों से अंधेरा पसरा हुआ है। यहां का ट्रॉसफॉर्मर जल चुका है, इसके बाद भी जिम्मेदार ध्यान नहीं दे रहे हैं। इससे ग्रामीणों को परेशानी हो रही है। बारिश के चलते गांव में बच्चों ओर महिला पुरुषों में जहरीले जीव जन्तुओं का भय बना हुआ है। मच्छरों की भनभनाहत से ग्रामवासियो की नींद में भी दखल हो रहा है।
50 घरों की आबादी में 48 बिजली कनेक्शनधारियों में से 38 पर 56 हजार रुपए बकाया होने का हवाला देते हुए बिजली कंपनी ट्रांसफॉर्मर नहीं बदल रहे हैं। ग्रामीण कंपनी कार्यालय के चक्कर दे रहे है। बुधवार को 24 किसानों ने बिजली बिल भर दिया। उसके उपरांत भी बिजली चालू न हीं की गई।

बिजली केबल सडऩे से बढ़ी समस्या
गांव में करीबन एक वर्षो से बिजली केबल सड़ चुकी है। जिससे आए दिन बिजली का बार बार बन्द होना आम बात हो गई है। कई बार विभाग को सूचना देने के बात भी समस्या ज्यो की त्यों बनी हुई है । कब बिजली की खराब केबल से लाइट गुल हो जाए कहा नहीं जा सकता, जिससे तीन चार घंटे बिजली बंद होना आम बात है।

किसानों को पड़ रही दोहरी मार
ग्राम में किसानो के अस्थायी बिजली कन्केशन से स्थायी कनेक्शन नही मिलने से एक किसान पर सालाना 9 हजार से अधिक का भार पड़ रहा है। ग्राम में करीबन २४ किसान दो वर्षो से स्थायी कनेक्शन की मांग कर रहे हैं। यदि किसानों का स्थायी कनेक्शन होता है तो सालाना आधा बिल भरना पड़ेगा। शासन की योजनाओं का लाभ मिल सकेगा।
इनका कहना
कनेक्शन के लिए आवेदन देने पर आज तक स्थायी कनेक्शन नहीं दिया है। अस्थायी कनेक्शन के कारण योजनाओ का लाभ भी नहीं मिल रहा है।
चैनसिंह. किसान होलडी
टार्च की रोशनी से रतजगा कर रहे है। डीपी को बदलने का कोई नाम नहीं ले रहा है।
शंकर गुर्जर,किसान होलडी

5 हजार से अधिक बिजली बिल बकाया चल रहा है जिसमे 50 प्रतिशत जमा होना चाहिए। आज उपभोक्ताओं ने बिल जमा किए हैं कल तक बिजली चालू हो जाएगी। केबल उपलब्ध नहीं होने से चेंज नहीं की जा रही है।
चन्द्रकुमार जैन, सुपर वाइजर हाटपिपलिया।