स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

डेढ़ साल से फरार हत्याकांड का आरोपी उत्तरप्रदेश के बरेली से धराया

Chandraprakash Sharma

Publish: Sep 20, 2019 17:13 PM | Updated: Sep 20, 2019 17:13 PM

Ratlam

चमड़े का व्यापार करने वाला था आरोपी, घुम रहा था पांच से अधिक प्रदेशों में

रतलाम/जावरा। नगर के जेल रोड़ के सामने 2 जून 18 को हुए विवाद के दौरान एक युवक के हत्या के आरोप में पिछले डेढ़ साल से फरार चल रहे आरोपी को पुलिस ने उत्तरप्रदेश के बरेली जिले के बरेही गांव से गिरफ्तार किया है। आरोपी पर पुलिस ने 10 हजार का इनाम भी घोषित किया हुआ था, आरोपी मृतक का रिश्तेदार भी है, रुपयों के लेन देन के मामले में हुए विवाद में तलवार से अमजद की मौत हो गई थी। मामले में पुलिस ने करीब ९ लोगों को आरोपी बनाया था। इसमें 8 आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था, जबकि मामले का मुख्य आरोपी फरार हो गया था। जिसे पुलिस ने पकड़ा, शुक्रवार को आरोपी को न्यायालय में पेश किया जाएगा, जहां से पीआर पर लिया जाएगा। मुख्य आरोपी के पकड़ में आने के बाद अब पुलिस मामले में पुरक चालान पेश करेगी, जिससे न्यायालय की कार्रवाई आगे बढ़ेगी। फिलहाल मामले के सभी आठ आरोपी न्यायिक हिरासत में है। फरार होने की अवधि में आरोपी जो कि चमड़े का व्यापार करता था, तो वह करीब पांच राज्यों में घुम रहा था।
गुरुवार की शाम को नगर पुलिस अधीक्षक कार्यालय पर मामले का खुलासा करते हुए सीएसपी अगम जैन ने बताया कि 2 जून 18 को रात करीब ९ बजे जेल रोड पर मोहम्मद हुसैन के घर के सामने जब्बार कुरैशी पिता अब्दुल हकिम ने अपने लड़कों एवं भाई फैजान, अफरोज, बाबू, इमरान, मेहफुस, जर्रार, मुज्जू, वकिल के साथ मिलकर पैसों के लेन देन के मामले में चाकू और तलवारों से अमजद पिता हब्बु कुरैशी (25) की हत्या कर दी थी। जिस पर पुलिस ने 9 आरोपियों पर प्रकरण दर्ज किया था। मामले में पुलिस ने ८ आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया था। हत्याकांड का मुख्य आरोपी जब्बार घटना के बाद से फरार था। पुलिस ने आरोपी पर 10 हजार का इनाम भी घोषित किया था। सीएसपी जैन ने बताया कि आरोपी जब्बार जो कि जानवरों के चमड़े का व्यापार करने के लिए लायसेंस भी बना रखा था, लेकिन लायसेंस निरस्त होने के बाद भी आरोपी फरारी की अवधि में अलग अलग राज्यों में चमड़े का व्यापार करता रहा। इसमें चलते आरोपी पुलिस गिरफ्त से बाहर था।
चार दिन रैकी के बाद पकड़ा गया आरोपी
मामले में कुछ अहम सुरागों के आधार पर आरोपी के उत्तरप्रदेश के बरेली जिले के बरेही गांव में होने की सूचना मिली, जिस पर पुलिस ने सादे कपड़ों में तीन से चार दिन रैकी की, आरोपी के अपनी ही जाति के गांव में रहने की पुष्टी हुई। स्थानीय पुलिस की मदद से तड़के सुबह ४.३० बजे दबिश दी गई और आरोपी को अभिरक्षा में लेकर देवरनिया थाने की सिन्होरा चौकी लेकर जाकर पूछताछ की तो आरोपी ने अपना नाम व पता अलग बताया और कोई पहचान पत्र भी आरोपी पेश नहीं कर पाया। आरोपी की पहचान के लिए उसे जावरा लाया गया। जहां फरियादियों व साक्षियों ने उसकी पहचान की। जिस पर पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार किया। सीएसपी जैन ने बताया कि आरोपी जानवरों के चमड़े का व्यापारी है, जो करीब छ: राज्यों में अपना व्यापार करता है। फरारी के दौरान भी आरोपी राजस्थान, गुजरात, महाराष्ट्र उत्तरप्रदेश के साथ अन्य राज्यों में कई लोगों के सम्पर्क में रहता था, फरारी के दौरान भी वह इन्ही राज्यों में रहता था।