स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

एक ही दिन दो शहर से बुर्काधारी महिलाओं ने ज्वैलरी दुकानों से चुराए सोने के जेवर

Akram Khan

Publish: Sep 19, 2019 17:48 PM | Updated: Sep 19, 2019 17:48 PM

Ratlam

एक ही दिन दो शहर से बुर्काधारी महिलाओं ने ज्वैलरी दुकानों से चुराए सोने के जेवर

रतलाम। आलोट में सोमवार शाम चार बजे के आसपास जगदेवगंज स्थित एसबी ज्वेलर्स से एक पुरुष एवं दो बुर्काधारी महिलाओं ने 11 हजार मूल्य केसोने के पेंडल पर हाथ साफ कर दिया। दुकान संचालक को इसका पता चलने पर उसने तुरंत डायल 100 पुलिस को सूचना दी, जिसके बाद पुलिस एवं दुकान संचालक ने वारदात करने वालों को ढूंढने की कोशिश की, मगर सफलता नहीं मिल पाई। एसबी ज्वेलर्स के संचालक सुधीर भंडारी ने बताया कि इस चोरी की घटना को बड़ी सफाई के साथ एक पुरुष एवं इसके साथ दो बुर्का पहने महिलाओं ने अंजाम दिया है। इनकी सारी गतिविधि हमारी दुकान में लगे सीसीटीवी कैमरे मे रिकॉर्ड हुई है । ये तीनों दुकान पर सोमवार को अपरह्व 3.40 बजे ग्राहक बनकर आए और सोने के पेंडल देखने के बहाने बड़ी चतुराई से एक पेंडल चुराकर बुर्काधारी महिला को दिया और उसने अपने पर्स मे डाला। ये तीनों दुकान मे 15 मिनट रुके।

इस वारदात का पता चलते ही दुकान संचालक ने पुलिस थाने व बाद में डायल 100 को सूचना दी। जिसके बाद पुलिस एवं दुकान संचालक ने भी उन चोरों को तलाशने के प्रयास किए, लेकिन उनका कोई पता नहीं चला। पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर मामले को जांच में लिया है। नगर परिषद् द्वारा लगाए गए सीसीटीवी फुटेज भी देखे जाएंगे।

ताल. नगर में सोमवार को दोपहर एक पुरुष 2 महिला बुर्के पहनी हुई सोने की झुमकी चुरा ले गई । नगर में नटवर सोनी की सोने चांदी दुकान पर खरीदने के बहाने पहुंचकर यह नहीं पसंद नहीं आने पर कह कर रवाना हो गए। कुछ देर बाद दुकान संचालक को पता चला कि अज्ञात चोर दुकान से एक झुमकी चुरा ले गए। इसकी शिकायत थाना प्रभारी में दूसरे दिन पहुंचे कर की। पुलिस ने दुकान लाइसेंस मांगने के बाद कार्रवाई की बात कही थी। दुकान संचालक लौट कर घर चला गया फिर उसी ने दूसरे दिन एक और वारदात इसी प्रकार की देखी तो इस देने वाले गिरोह के सरगना पुलिस तलाश तो नहीं कर रही हैं दुकान संचालकों को कह रही है कि आप लाइसेंस लाओगे रिपोर्ट लिखी जाएगी। मैंने दुकान संचालक को लाइसेंस लाने की बात कही थी और रिपोर्ट ने कोई मना नहीं किया था।