स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

एआईसीसी पर्यवेक्षकों के सामने कांग्रेस नेताओं ने निकाली भड़ास

Sachin Trivedi

Publish: Dec 05, 2019 14:11 PM | Updated: Dec 05, 2019 14:11 PM

Ratlam

जिला और शहर कांग्रेस कमेटी की मीटिंग में उठा गुटबाजी का मसला

रतलाम. लंबे समय के बाद अखिल भारतीय कांग्रेस (एआईसीसी) के पर्यवेक्षकों के साथ कांग्रेस नेताओं व पदाधिकारियों की एक मीटिंग गुरुवार को रतलाम में शुरू हो गई है। रतलाम शहर के दो बत्ती चौराहा के कांग्रेस कार्यालय पर मीटिंग में जिले के साथ ही शहर और ब्लॉक कांग्रेस के प्रतिनिधि भी मौजूद है। मीटिंग का मकसद तो आगामी आंदोलन की रणनीति बनाना है, लेकिन इसमें आंदोलनों के दौरान नेताओं की कम उपस्थिति पर भी चर्चा हो रही है। साथ ही पर्यवेक्षकों द्वारा लंबे समय बाद मीटिंग लेने का मुद्दा भी उठा है।

[MORE_ADVERTISE1]

आगामी 14 दिसंबर को होने वाले आंदोलन पर चर्चा

शहर कांग्रेस अध्यक्ष विनोद मिश्रा ने बताया कि एआईसीसी के संभागीय प्रभारी राजेश गर्ग और जिला प्रभारी धीरूभाई पटेल कांग्रेस की मीटिंग में सभी कांग्रेस पदाधिकारियों से चर्चा कर रहे है। इसमें आगामी 14 दिसंबर को होने वाले आंदोलन पर चर्चा की जाना है। मीटिंग के लिए सभी सहायक संगठनों के वर्तमान एवं पूर्व पदाधिकारी के साथ प्रकोष्ठ के पदाधिकारी भी आए हैं। जिला और शहर कांग्रेस की इस संयुक्त बैठक के दौरान बीते आंदोलनों में बड़े नेताओं की कम मौजूदगी और गुटबाजी पर भी चर्चा शुरू हो गई है। विशेषकर कांग्रेस का एक गुट खुद को बड़े आंदोलनों के दौरान सक्रिय नहीं कर पा रहा।

[MORE_ADVERTISE2]