स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

रतलाम मंडी में सरकारी बिक्री केंद्र के हटाए बोर्ड, एक दुकान बंद

Gourishankar Jodha

Publish: Dec 08, 2019 21:25 PM | Updated: Dec 08, 2019 21:25 PM

Ratlam

मंडी में पुराना प्याज 8300 रुपए प्रति क्विंटल के भाव बिका

रतलाम। सैलाना बस स्टैंड सब्जी मंडी में प्याज के थोक और बाजार में खेरची के बढ़ते भाव से आम जनता को राहत दिलाने के उ²ेश्य कलेक्टर के निर्देशानुसार मंडी में बिक्री केंद्र प्रारंभ तो किए गए, लेकिन वह औपचारिकता मात्र बन कर रह गए। पांचवें दिन शनिवार को दोनों केंद्रों से सरकारी नगद बिक्री केंद्र के बोर्ड हटा लिए गए, एक बिक्री केंद्र मोहनमुरलीवाला फर्म का बंद कर दिया गया। दूसरी तरफ पंकज गार्लिक के बिक्री केंद्र पर प्याज बेचने के लिए ढेर लगा रखा था, लेकिन ना तो सरकारी बोर्ड था और ना ही कोई भाव अंकित था और ना ही कोई उपस्थित नहीं मिला, जब पूछा तो पहले एक व्यक्ति ने 60 रुपए किलो और फिर बाद में 50 रुपए किलो प्याज के भाव बताए।
प्याज की आवक 2971 कट्टे रही
ऐसा नहीं की प्याज के भाव से परेशान उपभोक्ता मंडी प्याज लेने नहीं पहुंच रहे थे, लेकिन ना तो प्रचार प्रसार दिया गया और ना ही उचित व्यवस्था मंडी प्रशासन द्वारा की गई। इस कारण पांचवे दिन दो केंद्रों में से एक रह गया। शनिवार को प्याज के भाव निचे में 2710 और ऊंचे में 8300 रुपए प्रति क्विंटल रहे, जबकि आवक 2971 कट्टे की थी। इसी प्रकार लहसुन 3800 से 14099 रुपए प्रति क्विंटल भाव रहे आवक मात्र 330 कट्टे रही। उल्लेखनीय है कि कलेक्टर रूचिका चौहान के निर्देश पर कार्यालय कृषि उपज मंडी समिति रतलाम के बेनर तले थोक दर पर फुटकर प्याज बिक्री केंद्र खोले गए थे, प्रथम दिन 3 दिसंबर को एक केंद्र मोहनमुरलीवाला द्वारा खोला गया, जहां पर ७० रुपए किलो प्याज उपभोक्ताओं को उपलब्ध कराया गया।

प्रतिदिन के थोक दर पर फुटकर में प्याज विक्रय किया जाना था
दूसरे दिन 4 दिसंबर को दो केंद्र खोले गए, जिसमें मोहनमुरलीवाला के यहां 70 और पंकज गार्लिक ले यहां 65 रुपए किलो प्याज उपभोक्ताओं बेचा गया। 5 दिसंबर को दोनों ही फर्मों पर 60-60 रुपए प्रति किलो के भाव से प्याज बेचा। 6 दिसंबर को भी 60 रुपए किलो के भाव रहे, 7 दिसंबर को मोहनमुरलीवाला ने बिक्री केंद्र बंद कर दिया तो गार्लिक वाले के यहां 50 रुपए किलों के भाव में प्याज बेचा गया। जहां पर आम जनता की सुविधा के लिए मंडी में लायसेंसधारी व्यापारी द्वारा प्रतिदिन के थोक दर पर फुटकर में प्याज विक्रय किया जाना था। मंडी में बगैर योजना के आनन-फानन में खोले गए केंद्र मनमर्जी से चले और बंद भी कर दिए गए। यहां तक की जहां केंद्र चालू है, वहां सरकारी बोर्ड और भाव दर्शाना भी उचित नहीं समझा।

इनका कहना...

मंडी में आम उपभोक्ताओं के लिए प्याज बिक्री केंद्र खोले गए है, सोमवार से एक प्रकाश ट्रेडर्स द्वारा और काउंटर खोला जाएगा। ताकि आम उपभोक्ताओं को मंडी के थोक भाव में प्याज उपलब्ध हो सके।

रूमालसिंह, मंडी प्रभारी सैलाना बस स्टैंड रतलाम

[MORE_ADVERTISE1]