स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

नामली में खाद व्यापारी पर एफआईआर के बाद खाद-यूरिया विक्रेताओं में हड़कंप

Gourishankar Jodha

Publish: Nov 19, 2019 13:06 PM | Updated: Nov 19, 2019 13:06 PM

Ratlam

तीन दिन की कार्रवाई में यूरिया के खाद की 25 संस्थानों पर निरीक्षण, 18 नमूने लिए, बीज में 4 और कीटनाशक के 2 नमूने लिए

रतलाम। यूरिया की मारामारी से किसान परेशान है, जिले में धड़ल्ले से कालाबाजारी की शिकायत और सूचनाएं मिल रही है, जिसका खामियाजा किसानों को उठाना पड़ रहा है। यूरिया का वाजीब दाम नहीं लेते हुए हर तरफ मनमानी का व्यापार किया जा रहा है। सोसायटियों में खाद खाताधारियों को दिया जा रहा है, तो बाजार में किसानों से अधिक दाम लेने की शिकायतें मिल रही है। शासन के निर्देशानुसार जिला कलेक्टर के मार्गदर्शन में गठित जिला और विकासखंड स्तरीय दल की तीसरे दिन भी कार्रवाई जारी रही। 16 नवंबर से शुरू हुए अभियान के अन्तर्गत अब तक 25 खाद की संस्थानों का निरीक्षण किया गया और 18 खाद के नमूने लिए है। इसमें नामली यूरिया सहित खाद का अवैध भंडारण करने पर संस्थान के व्यापारी पर एफआईआर और दो संस्थानों को कारण बताओं नोटिस जारी किए है।

14 प्रतिष्ष्ठानों के किया निरीक्षण
सोमवार को आलोट क्षेत्र में निरीक्षण के दौरान सहायक संचालक कृषि डीआर माहोर, कृषि विकास अधिकारी बीआरएस चंद्रावत आदि कर्मचारी शामिल थे। उपसंचालक कृषि जीएस मोहनिया ने बताया कि बीज में 14 प्रतिष्ठानों के निरीक्षण किया गया, 4 नमूने लिए गए इसी प्रकार कीटनाशक में 6 का निरीक्षण और 2 नमूने लिए गए है। इनमें भी छोटी-मोटी कमिया पाई गई है, जिसके तहत माह में जानकारी नहीं देना, सामग्री सूचि बोर्ड टंगा नहीं होना आदि के संबंध में भी नोटिस जारी किया जाएगा।

नामली व्यापारी का लायसेंस निरस्त
डीडीए ने बताया कि सोमवार को नामली व्यापारी के लायसेंस निरस्ती की कार्रवाई कर दी गई है, इसके अन्तर्गत अब व्यापारी के अवैध गोडाउन पर हाथ नहीं लगा पाएगा। इसके साथ ही जो गोडाउन व्यापारी का सही है उस पर जो माल रखा हुआ है या तो कम्पनी को पुन: लौटाएगा या फिर 30 दिन की अवधी में उसे सेल कर सकेगा, लेकिन नया माल खरीद नहीं सकेंगा। अब जिला और विकासखंड स्तरीय दल के साथ अब तहसीलदार भी शामिल रहेंगे।

[MORE_ADVERTISE1]