स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

देखें VIDEO भाजपा प्रदेश अध्यक्ष राकेशसिंह का कमलनाथ सरकार पर बड़ा आरोप

Ashish Pathak

Publish: Jan 17, 2020 11:59 AM | Updated: Jan 17, 2020 11:59 AM

Ratlam

रतलाम में बोले भाजपा प्रदेश अध्यक्ष राकेशसिंह, पूर्व पीएम इंदिरा गांधी व करीम लाला की मुलाकात की बात पर कहे कांगे्रस की तुष्टीकरण नीति हो गई उजागर। यहां देखें खबर से जुड़ा पूरा VIDEO

रतलाम। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष राकेशसिंह मध्यप्रदेश के पश्चिमी क्षेत्र रतलाम में थे। यहां पर मीडिया से जब चर्चा की बारी आई तो वो राज्य में कमलनाथ सरकार द्वारा चलाए जा रहे माफिया के खिलाफ अभियान से लेकर हाल ही में शिवसेना प्रवक्ता संजय राऊत द्वारा पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के मुंबई के गैंगेस्टर करीम लाला के साथ संबंध व मुलाकात के बयान पर काफी कुछ बोले। यहां देखें खबर से जुड़ा पूरा VIDEO

[MORE_ADVERTISE1]
[MORE_ADVERTISE2]

पूर्व पीएम इंदिरा गांधी के अपराधियों के साथ संबंध उजागर होने के बाद भाजपा की इस बात को बल मिला है कि कांगे्रस तुष्टीकरण की नीति करती रही है। हमने जो कहा, वो उजागर हो गया है। यह कांगे्रस का वास्तविक चेहरा है। जिनको अपराधी भाजपा कहती है, उनसे पूर्व पीएम के संबंध उजागर हो गए है। माफिया के नाम पर राज्य सरकार सिर्फ भाजपाईयों को निशाने पर ले रही है। यह बात भाजपा प्रदेश अध्यक्ष राकेशसिंह ने रतलाम में कही। वे संगठन के जिलाध्यक्ष राजेंद्रसिंह लूनेरा के यहां पुत्री के निधन पर शोक प्रकट करने आए थे।

[MORE_ADVERTISE3]indore rakesh singh indore tour canceled

प्राचार्य का निलंबन दुर्भाग्य की घटना
राकेशसिंह ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि वीर सावरकर के फोटो की पुस्तक कॉपी बांटने को लेकर स्कूल के प्राचार्य को निंलबित करना दुर्भाग्य की घटना है। राज्य सरकार को राष्ट्रभक्त की जरुरत नहीं है। राज्य में देशभक्ति के बजाए देशविरोधी नारे लगाने वालों का सम्मान हो रहा है। राज्य सरकार को निशाने पर लेते हुए ङ्क्षसह ने कहा कि मुद्दों से ध्यान हटाने के लिए हथकंडे राज्य सरकार अपना रही है।

jharkhand_bjp_1.jpg

सड़क पर उतरेगी भाजपा
भोपाल में मंत्री द्वारा दिए जा रहे डिनर डिप्लोमेसी पर राकेशसिंह ने कहा कि यह कांगे्रस का निजी मामला है। माफिया के नाम पर वैध निर्माण कार्यो तक को तोड़ दिया गया। यहां तक की भोपाल में 70 वर्षो पूर्व के पट्टे को तोड़ दिया गया। राज्य सरकार को लगता है भाजपा इससे डर जाएगी तो गलत सोच है। कार्यकर्ता जल्दी ही सड़क पर उतरेंगे। राज्य में संगठन चुनाव पर कहा कि इस बारे में जल्दी निर्णय लिया जाएगा। इस दौरान प्रदेश भाजपा प्रवक्ता लोकेंद्र पाराशर सहित स्थानीय नेता उपस्थित रहे।

 controversy of bjp-congress in Shivpuri kothi number