स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

धर्मांतरण के आरोप में फादर समेत 2 गिरफ्तार, लोगों को यूं लेते थे झांसे में

Prateek Saini

Publish: Sep 08, 2019 18:05 PM | Updated: Sep 08, 2019 18:05 PM

Ranchi

Jharkhand News: झारखंड धर्म स्वतंत्र विधेयक के तहत प्राथमिकी दर्ज कर कार्रवाई की गई। गिरफ्तार किए गए फादर ( Pastor ) केरल के रहने वाले हैं। आदिवासियों ( Jharkhand Tribal ) को धर्म परिवर्तन करने के लिए...

(रांची,गोड्डा) : झारखंड में गोड्डा जिले स्थित राजदाहा चर्च के फादर विनोज वीजे और पिपरजोरिया निवासी मुन्ना हांसदा को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। फादर पर धर्मांतरण कराने के लिए लोगों पर दवाब बनाने और चर्च के लिए जमीन पर कब्जा करने की कोशिश का कथित तौर पर आरोप लगे हैं।

 

प्रलोभन और धमकी से धर्मांतरण...

गोड्डा के एसपी शैलेंद्र प्रसाद वर्णवाल ने बताया है कि चार सितंबर को राजदाहा के कुछ ग्रामीणों ने शिकायत की थी कि राजदाहा चर्च के फादर सहित चार लोग उन पर सरना धर्म त्याग कर ईसाई धर्म अपनाने के लिए लगातार दबाव बन रहे हैं। इसके लिए लगातार प्रलोभन और धमकी भी दे रहे हैं। इस शिकायत की जांच का जिम्मा देवडांड़ के थाना प्रभारी को दिया गया। जांच में ग्रामीणों का आरोप सही पाया गया।


इसके बाद ग्रामीण लखीराम बेसरा के आवेदन पर पांच सितंबर को देवडांड़ थाने में झारखंड धर्म स्वतंत्र विधेयक के तहत प्राथमिकी दर्ज कर कार्रवाई की गई। गिरफ्तार किए गए फादर केरल के रहने वाले हैं। वहीं, इस मामले में ग्राम प्रधान राजमेश्वर ठाकुर व चार्लिस हांसदा की गिरफ्तारी के लिए पुलिस छापेमारी कर रही है।


इससे पहले डीसी किरण कुमारी पासी के निर्देश पर एसडीओ संजय कुजूर और सीओ प्रदीप कुमार शुक्ला ने जमीन पर कब्जे की कोशिश करने की जांच पड़ताल की। ग्रामीणों ने डीसी-एसपी को पूरे मामले को लेकर अलग-अलग आवेदन देते हुए कार्रवाई की मांग की थी। उस दौरान एसडीओ ने भी बताया कि गरीब आदिवासी पर जबरन धर्मांतरण का दबाव बनाकर उनकी जमीन पर कब्जा किया जा रहा है।

झारखंड की ताजा ख़बरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें...

यह भी पढ़ें: मंदी का असर: जिनकी नौकरियां गई उन्हें काम मिलेगा या नहीं, कोई बताने वाला नहीं