स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

पूर्व मंत्री बंधु तिर्की पर ACB का शिकंजा,करोड़ों के घोटाले मामले में गिरफ्तार

Prateek Saini

Publish: Sep 04, 2019 16:13 PM | Updated: Sep 04, 2019 16:13 PM

Ranchi

Bandhu Tirkey: ( ACB ) भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो ( Anti Corruption Bureau ) ने झारखंड विकास मोर्चा के दिग्गज नेता ( JVM Leader Bandhu Tirkey ) को गिरफ्त में लिया है। मामला 34वें नेशनल गेम्स ( 34th National Games Scam ) में हुए घोटाले से जुडा है...

(रांची,रवि सिन्हा): झारखंड विकास मोर्चा ( Jharkhand Vikas Morcha )के दिग्गज नेता व राज्य के पूर्व खेल मंत्री बंधु तिर्की की मुश्किल बढ़ गई है। बुधवार को भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो ( ACB ) की टीम ने रांची में उन्हें गिरफ्तार कर लिया। 34वें नेशनल गेम्स ( National Games ) से जुडे करोड़ों रूपए के घोटाले मामले में उन्हें गिरफ्तार किया गया है। आइए जानते है कैसे हुआ इतना बड़ा घोटाला...

 

हाजिरी लगाने आए थे,धरे गए

मिली जानकारी के अनुसार बंधु तिर्की नेशनल गेम्स घोटाले मामले में हाजिरी लगाने रांची के सिविल कोर्ट परिसर पहुंचे थे। उनकी ओर से अदालत में अग्रिम जमानत याचिका भी दायर की गई थी। एसीबी को 24 अगस्त को 34 वें राष्ट्रीय खेल घोटाला मामले में, तत्कालीन खेल मंत्री बंधु तिर्की और राष्ट्रीय खेल आयोजन समिति के कार्यकारी अध्यक्ष आरके आनंद समेत पांच आरोपियों पर मुकदमा चलाने की अनुमति एसीबी को मिली थी।


यूं हुआ घोटाला

Bandhu Tirkey
यह तस्वीर यहां पर प्रतीकात्मक तौर पर इस्तेमाल की गई है IMAGE CREDIT:

ज्ञातव्य हो कि झारखंड में वर्ष 2007 में 34वें राष्ट्रीय खेल का आयोजन किया जाना था। मगर तैयारी पूरी नहीं होने की वजह से 34वें राष्ट्रीय खेल का आयोजन साल 2011 में किया गया। इसके बाद खेल सामग्री की खरीद, ठेका देने में अनियमितता और निर्माण में गड़बड़ी के कई मामले सामने आये थे। जिसमें आंकलन के मुताबिक, 29 करोड़ रूपये से ज्यादा का नुकसान सरकार को हुआ था। इसके बाद वर्ष 2010 में एसीबी ने इस संबंध में एफआईआर दर्ज की थी।

पहले भी हुए थे गिरफ्तार

यह पहली बार नहीं है जब बंधु तिर्की गिरफ्त में आए हो। इससे पहले सीबीआइ ( CBI ) ने आय से अधिक संपत्ति अर्जित करने के मामले में भी उन्हें गिरफ्तार किया था। बाद में झारखंड हाईकोर्ट ने पूर्व मंत्री बंधु तिर्की को जमानत दे दी थी।

झारखंड की ताजा ख़बरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें...

यह भी पढ़ें: अंधविश्वासी भीड़ ने ली अधेड़ की जान, छोटी सी बात से थे नाराज