स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

2504 नए दारोगा का पारण परेड, मुख्यमंत्री बोले, सर्वश्रेष्ठ देने का प्रयास करें

Navneet Sharma

Publish: Oct 14, 2019 18:11 PM | Updated: Oct 14, 2019 18:11 PM

Ranchi

पारण परेड का निरीक्षण मुख्यमंत्री रघुवर दास ने किया और सलामी ली। साथ ही नवनियुक्त दारोगाओं से कहा कि पुलिस सेवा में सर्वश्रेष्ठ देने का प्रयास करें। 2504 में 138 महिला पुलिस अवर निरीक्षक भी शामिल हैं।

रांची। झारखंड राज्य पुलिस महकमा में 2504 नए दारोगा भी शामिल हो गए हैं प्रशिक्षण की अवधि पूरी करने के बाद आज हजारीबाग स्थित पुलिस अकादमी में इन दारागाओं का पारण परेड हुआ। पारण परेड का निरीक्षण मुख्यमंत्री रघुवर दास ने किया और सलामी ली। साथ ही नवनियुक्त दारोगाओं से कहा कि पुलिस सेवा में सर्वश्रेष्ठ देने का प्रयास करें। 2504 में 138 महिला पुलिस अवर निरीक्षक भी शामिल हैं।
मुख्यमंत्री रघुवर दास ने हजारीबाग में आयोजित पुलिस अवर निरीक्षकों के पारण परेड समारोह को संबोधित करते हुए उम्मीद जतायी कि वे सभी झारखंड को उग्रवाद व अपराध मुक्त बनाने में अपना योगदान देंगे। उन्होंने कहा कि आज के समारोह में आये नवनियुक्त अवर निरीक्षकों के माता-पिता खुद को गौरवान्वित महसूस कर रहे है इनका गौरव यूं ही बरकरार रहे, इसलिए सभी पूरी ईमानदारी से कार्य करते हुए जनता से मित्रवत संबंध बनाएंगे।
मुख्यमंत्री ने बताया कि नेतरहाट स्थित जंगल वार फेयर को पूर्वी क्षेत्र का सर्वश्रेष्ठ प्रशिक्षण केंद्र होने का गौरव प्राप्त हुआ है। आने वाले दिनों में सीटीसी मुसाबनी, हजारीबाग प्रशिक्षण केंद्र एवं जंगल वार फेयर नेतरहाट को सेंटर ऑफ एक्सीलेंस के रूप में विकसित किया जाएगा।
पुलिस महानिदेशक कमल नयन चैबे ने कहा कि इतनी बड़ी संख्या में नियुक्ति हो रही है या गर्व की बात है। ये नियुक्तियां स्वच्छ व पारदर्शी तरीके से हुई है। सभी को उनकी नियुक्ति के लिए बधाई। सरकार और जनता को आपसे उम्मीदें हैं। प्रशिक्षु अवर निरीक्षक गेमचेंजर के रूप में साबित होंगे। आपके सहयोग से नक्सलवाद की समस्या के निवारण को महत्वपूर्ण आयाम मिलेगा।
इस अवसर में पुलिस महानिदेशक कमल नयन चैबे, उपायुक्त हजारीबाग, अपर पुलिस महानिदेशक अनिल कुमार पालटा, पुलिस महानिदेशक प्रशिक्षण प्रिया दुबे डीजी मुख्यालय डीजी होमगार्ड अपर पुलिस महानिदेशक जंगल वार फेयर के डीआईजी डीआईजी हजारीबाग अवर पुलिस निरीक्षक समिति अन्य लोग उपस्थित थे।