स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

सांसद आजम खान के रिजॉर्ट पर चला बुलडोजर, पुलिस फोर्स की मौजूदगी में ढहाई गई दीवार

lokesh verma

Publish: Aug 16, 2019 12:16 PM | Updated: Aug 16, 2019 12:16 PM

Rampur

खास बातें-

  • नहर विभाग की एक हजार वर्ग मीटर जमीन पर कब्जा करके बनाई गई थी रिजॉर्ट की दीवार
  • एसडीएम और आला अधिकारियों की मौजूदगी में ढहाया गया अवैध निर्माण
  • मौके पर भारी संख्या पुलिस फोर्स तैनात

रामपुर. समाजवादी पार्टी सांसद आजम के खिलाफ प्रशासन ने कार्रवाई शुरू कर दी है। शुक्रवार सुबह एसडीएम सदर समेत आला अधिकारियों और भारी संख्या में पुलिस फोर्स आजम खान के हमसफर रिजॉर्ट पहुंची और अवैध दिवार को तोड़ना शुरू कर दिया है। बता दें कि नहर विभाग की ओर से सांसद आजम खान को हमसफर रिजॉर्ट के बाहर अवैध रूप से बनी दीवार को खुद से हटाने के लिए दो नोटिस जारी किए थे, लेकिन जब आजम खान की तरफ से पहल नहीं की गई तो जिला प्रशासन की टीम ने पहुंचकर तोड़फोड़ की कार्रवाई शुरू कर दी है।

दरअसल, 15 दिन पहले नहर विभाग के अधिशासी अभियंता ने सांसद आजम खान को हमसफर रिजॉर्ट की दीवार को अवैध बताते हुए एक नोटिस भेजा था। इसके बाद नोटिस का जवाब नहीं मिला तो फिर से 3 दिन बाद दूसरा नोटिस भेजा गया, जिसमें साफ कहा गया था कि हमसफर रिजॉर्ट के बाहर अवैध रूप से बने गेट और दीवार को हटा लिया जाए। अन्यथा जिला प्रशासन खुद इसे तोड़ने की कार्रवाई करेगा। साथ ही कहा गया था कि तोड़फोड़ की इस कार्रवाई का खर्चा भी उन्हीं को वहन करना होगा।

अधिशासी अभियंता ने बताया था कि समाजवादी पार्टी के शासन में आजम खान ने एक हजार वर्ग मीटर जमीन पर अवैध कब्जा करते हुए हमसफर रिजॉर्ट की चारदीवारी और गेट बना लिया था। शिकायत के बाद मामले की जांच हुई तो आरोप सही पाए गए।

यह भी पढ़ें- आजम खान के खिलाफ आज होगी बड़ी कार्रवाई, ढहाई जाएगी उनके रिजॉर्ट की दीवार

Rampur

इसके बाद शुक्रवार को सांसद आजम खान के हमसफर रिजॉर्ट की दीवार तोड़ने के जिला प्रशासन की टीम भारी पुलिस बल के साथ पहुंची। एसडीएम सदर समेत तमाम आला अधिकारी कार्रवाई के लिए पहुंचे हैं। भारी पुलिस फोर्स की मौजूदगी में अवैध निर्माण को ढहाया जा रहा है। बताया जा रहा है कि नहर विभाग को आजम खान की ओर से नोटिस का जो जवाब दिया गया था। उससे जिला प्रशासन संतुष्ट नहीं है। इसलिए कब्जा हटाने की कार्रवाई की जा रही है।

यह भी पढ़ें- दरोगा ने खुद को गोली मारकर किया सुसाइड, पुलिस विभाग में मचा हड़कंप