स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

हिंसा के दौरान उपद्रवियों ने आपकी गाड़ी या दुकान में लगाई है आग तो यहां कर सकते हैं Claim- देखें वीडियाे

Nitin Sharma

Publish: Dec 23, 2019 13:37 PM | Updated: Dec 23, 2019 13:37 PM

Rampur

Highlights

  • नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के विरोध में उपद्रवियों ने वाहन और दुकानों में लगाई आग
  • हिंसा की भेट चढ़े अपने वाहन और नुकसान की भरपाई के लिए कर सकते हैं क्लेम
  • जिलाधिकारी ने बताया इस प्रशासनिक अधिकारी को जाकर दे रिपोर्ट

रामपुर। नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के विरोध में शुक्रवार को (PROTEST) प्रदर्शन के दौरान कुछ उपद्रवियों ने (Stone Pelting) पथराव और आगजनी कर दी। इस दौरान अलग अलग जगहों सैंकड़ों वाहनों में तोडफ़ोड़ और आग के हवाले कर दिया गया। हालांकि पुलिस प्रशासन के अधिकारियों ने हालातों पर काबू पाते हुए आरोपियों की धर पकड़ शुरू कर दी है। इसबीच (RAMPUR DM) रामपुर जिलाधिकारी ने बताया कि हिंसा के दौरान आप के वाहनों में नुकसान पहुंचाया गया है या आग लगाकर जलाया गया है। तो आप इसकी शिकायत (ADM) एडीएम फाइनेंस से (CLAIM) क्लेम कर सकते है। जिस पर रिपोर्ट दर्ज कर आप के नुकसान की भरपाई के लिए कार्रवाई की जाएगी।

विकास भवन में पहुंचे CDO तो 51 कर्मचारी दिखे गायब, अधिकारी ने नोटिस देकर शुरू की कार्रवाई

वही रामपुर के जिलाधिकारी आंजनेय कुमार ने बताया कि (Video) वीडियो के आधार पर 25लोगों को चिन्हित किया गया है। प्रक्रिया का पालन करते हुए इनकी संपत्ति को निलाम कर नुकसान की भरपाई की जाएगी। इसके अलावा अभी तक31लोगों को गिरफ्तार किया गया है,जबकि 110लोगों को पुलिस ने चिन्हित किया है। इनके तथ्य और प्रमाण पता कर आगे की कार्रवाई की जा रही है। साथ ही दो लोगों को घर से अवैध तमंचे बरामद हुए हैं। जिन्हें गिरफ्तार किया गया है।

[MORE_ADVERTISE1]
[MORE_ADVERTISE2]

संपत्ति नुकसान की एडीएम फाइनेंस के पास जाकर करें क्लेम

डीएम ने जारी वीडियो में बताया कि अगर हिंसा के दौरान उपद्रवियों ने आप के वाहन, मकान या दुकान को नुकसान पहुंचाया है। आप एडीएम फाइनेंस के पास जाकर इसका क्लेम कर सकते है। वहां रिपोर्ट देने के बाद आरोपियों की संपत्ति की निलामी कर आप के नुकसान की भरपाई कराई जाएगी। उन्होंने बताया कि इनके अलावा जो 15-20लोगों को प्रदर्शन के दौरान और बाद में पकड़ा गया था। उनमें से 15से अधिक लोगों को तथ्यों को जांच कर छोड़ दिया गया है। निर्दोषों को कुछ नहीं होगा और दोषियों को छोड़ा नहीं जाएगा।

[MORE_ADVERTISE3]