स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

Video: Azam Khan भूमाफिया घोषित, एनकाउंटर मैन Ajay Pal Sharma IPS ने बताया- अब क्‍या होगा आगे

sharad asthana

Publish: Jul 19, 2019 09:48 AM | Updated: Jul 19, 2019 10:49 AM

Rampur

  • Samajwadi Party MP Azam Khan और रिटायर सीओ को घोषित किया गया भू-माफिया
  • Rampur DM Anjney Kumar Singh ने बताया इसे एक सामान्य सी प्रक्रिया
  • SP Ajay Pal Sharma IPS बोले, आरोपों की जांच करेगी एसआईटी

रामपुर। समाजवादी पार्टी ( Samajwadi Party ) सांसद ( MP ) आजम खान ( azam khan ) और उनके बेहद करीबी रिटायर पुलिस अधिकारी आले हसन को भू-माफिया घोषित कर दिया गया है। बाकायदा सरकार के Anti Bhumafia Portal पर भी एक लेटर डाला गया है। इसमें उन्हें भू-माफिया घोषित किया गया है। इस मामले में पत्रिका टीम ने रामपुर डीएम ( rampur DM ) और एसपी ( Rampur SP ) से खास बातचीत की।

यह कहा rampur dm Anjney Kumar Singh ने

रामपुर डीएम ( Rampur DM ) आंजनेय कुमार सिंह ( Anjney Kumar Singh ) ने बताया कि यह सामान्य सी प्रक्रिया है। जब किसी पर आरोप लगता है तो उसकी जांच कराई जाती है। जांच में अगर सही तथ्य निकलकर सामने आते हैं तो पहले एफआईआर ( FIR ) होती है। एफआईआर (FIR) के बाद एक क्राइटेरिया है। इस प्रक्रिया का फॉलो किया जाता है। सांसद आजम खान ( Rampur MP Azam Khan ) और उनके करीबी रिटायर्ड पुलिस ऑफिसर को भू-माफिया घोषित किया गया है। पुलिस इनकी जांच कर रही है।

यह भी पढ़ें: उत्तर प्रदेश सरकार ने Azam Khan को घोषित किया भू-माफिया, डरा-धमकाकर किसानों की जमीन कब्जाने का है आरोप

किसानों ने दी थी शिकायत

डीएम के अनुसार, आजम खान पर आरोप है कि उन्होंने सत्ता में रहते हुए नाजायज तरीके से किसानों की जमीन को कब्जा लिया। कागज में जमीन आज भी उन किसानों के नाम दर्ज है, जबकि हकीकत में रामपुर सांसद आजम खान ( Rampur MP Azam Khan ) ने जमीनों को अपने जौहर ट्रस्ट में चारदीवारी बनाकर कब्जा कर लिया। इन्हीं सब चीजों को लेकर तमाम किसानों ने तहरीर दी है। इसके आधार पर उन्‍होंने राजस्व से जांच करवाई थी। इसमें यह साफ हो गया है क‍ि जो आरोप किसानों ने लगाए हैं, वे सही हैं। इसके बाद आजम खान और आले हसन के खिलाफ पुलिस को एफआईआर ( FIR ) दर्ज करने के आदेश दिए थे। पुलिस आरोपों की जांच कर रही है।

यह भी पढ़ें: उत्तर प्रदेश उपचुनावः भाजपा को हराने के लिए आजम खान ने तैयार किया मास्टर प्लान

Ajay Pal Sharma IPS ने यह बयान दिया

अब पुलिस की जांच में क्या चीजें हैं, इसे समझने के लिए पत्रिका टीम ने एसपी अजय पाल शर्मा ( Ajay Pal Sharma IPS ) से बात की। एसपी अजय पाल शर्मा ( Ajay Pal Sharma IPS ) ने बताया कि आजम खान ( Azam Khan ) और उनके करीबी रिटायर्ड पुलिस ऑफिसर आले हासन पर किसानों को धमकाने और उनकी जमीन को कब्जाने के आरोप में एफआईआर ( FIR ) दर्ज की गई है। इसको लेकर उन्‍होंने एक एसआईटी का गठन किया है। इसमें एक कोतवाल और कई दरोगा हैं। वे सभी किसानों के मुकदमों की जांच करेंगे। एफआईआर ( FIR ) में लिखे आरोपों की जांच एसआईटी करेगी। जल्द ही जांच पूरी कर ली जाएगी।

UP News से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Uttar Pradesh Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर