स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

Rampur: मुस्लिमों के घर पहुंचे Naqvi, बोले- हर मुस्लिम हिंदुस्‍तानी था, हिंदुस्‍तानी है, हिंदुस्‍तानी रहेगा

sharad asthana

Publish: Jan 06, 2020 10:22 AM | Updated: Jan 06, 2020 10:23 AM

Rampur

Highlights

  • दो दिवसीय दौरे पर Rampur पहुंचे केंद्रीय मंत्री Mukhtar Abbas Naqvi
  • मुस्लिमों के घर जाकर दी नागरिकता संसोधन कानून की जानकारी
  • कहा- Rampur में हिंसा कराने वालों के खिलाफ कार्रवाई हो रही है

रामपुर। केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी (Mukhtar Abbas Naqvi) दो दिवसीय दौरे पर रविवार (Sunday) को रामपुर (Rampur) पहुंचे। यहां उन्होंने मुस्लिमों के घर जाकर उनको नागरिकता संसोधन कानून (CAA) की जानकारी दी। साथ ही उन्‍होंने 44 पन्नों की एक पुस्तक भी लोगों को बांटी। नकवी ने उनसे कहा कि आप इसे पढ़ें, किसी की बहकावे में नहीं आएं। भारत (India) आपका था, आपका है। आपको कोई यहां से दूर नहीं कर रहा। कुछ पार्टियां हैं, जिनके नेता आपको बरगला रहे हैं। इससे आपको बचना है।

यह भी पढ़ें: Muzaffarnagar: शिव‍सैनिकों ने कहा- भारत सरकार पाकिस्‍तान पर कब्‍जा करके उसे हिंदू राष्‍ट्र घोषित करे- देखें Video

देश के लोगों को दिलाया यकीन

उन्‍होंने कहा कि हम देश के सभी लोगों को यकीन दिलाना जाते हैं, खास तौर से हिंदुस्तान के मुसलमानों को, भारत आपका है। आपकी नागरिकता को कभी खतरा नहीं था, न है और न हागा। मोदी सरकार गरीबों, खासतौर पर मुसलमानों को, मकान दे रही है। उनके घर तक रोजगार पहुंचा रही है। सड़कें पहुंचा रही है। फिर उनको वहां से क्‍यों हटाया जाएगा। झूठ का झाड़, सच के पहाड़ के नीचे खत्म हो जाएगा। किसी भी भारतीय को नागरिकता का परिचय देने की जरूरत नहीं है। अभी जनगणना होने वाली है। अगर इसमें भी आपका नाम नहीं लिखा हुआ है तब भी आपसे कोई दस्‍तावेज नहीं लिया जाएगा। आपका नाम फिर भी आएगा। हर भारतीय नागरिक, विशकर मस्लिम, हिंदुस्‍तानी थी, हिंदुस्‍तानी है और हिंदुस्‍तान रहेगा। नकवी बोले कि पिछले पांच साल में हिंदुस्तान में तकरीबन साढ़े 5 हजार लोगों को भारतीय नागरिकता दी है। उसमें पाकिस्तान के ज्यादातर लोग हैं।

यह भी पढ़ें: Kalyan Singh Birthday: अयोध्‍या में विवादित ढांचा गिरते ही दे दिया था मुख्‍यमंत्री पद से इस्‍तीफा

अखिलेश यादव के बयान पर दी प्रतिक्रिया

पूर्व यूपी सीएम अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने कहा है कि जो जनगणना होने वाली है, वह उसके फॉर्म को नहीं भरेंगे। इस पर नकवी बोले कि इससे पहले 1951 में जनगणना हुई। फिर 61, 71, 81, 91 और 2001 में हुई। इसके बाद 2011 में भी हुई है। पहली बार त ो नहीं हो रही है। हर आदमी उनके कहने में तो आएगा नहीं। हर कोई चाहेगा जनगणना में उसका नाम हो।

रामपुर में हुई हिंसा पर यह कहा

असम में चल रही एनआरसी प्रक्रिया पर उन्‍होंने कहा कि जो प्रक्रिया अभी चल रही है, पूरा होने से पहले कैसे बता दें। इस प्रक्रिया में कौन आएगा और कौन नहीं आएगा। रामपुर में हुई हिंसा को लेकर वह बोले कि जिन्होंने हिंसा का यह पाप किया है, उसे करने वाले और कराने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है। उन्‍होंने अधिकारियों से कहा है कि गुनाहगार बच नहीं पाए और बेगुनाह छुए न जाएं।

[MORE_ADVERTISE1]