स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

जया प्रदा की शिकायत के बाद अब इस मामले में आजम खान को मिला नोटिस

lokesh verma

Publish: Sep 19, 2019 13:02 PM | Updated: Sep 19, 2019 15:15 PM

Rampur

Highlights
- जया प्रदा की अर्जी पर हाईकोर्ट का नोटिस तामील
- आजम खान को नोटिस का जवाब देने के लिए मिला चार हफ्तों का समय
- जया प्रदा ने की है आजम खान का निर्वाचन रद्द करने की मांग

रामपुर. समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के कद्दावर नेता और सांसद आजम खान (Azam Khan) को जया प्रदा (Jaya Prada) की अर्जी पर हाईकोर्ट का नोटिस तामील हो गया है। बता दें कि आजम खान के खिलाफ लोकसभा का चुनाव लड़ने वाली भाजपा नेत्री जया प्रदा नाहटा ने मुकदमा किया था। अदालत ने आजम खान को नोटिस का जवाब देने के लिए चार हफ्तों का समय दिया है। अब इस केस में अगली सुनवाई 16 अक्टूबर को होगी।

यह भी पढ़ें- योगी सरकार के मंत्री बोले—ऐसे मिलेगा फ्लैट बॉयर्स को फायदा, सरकार कर रही यह काम

उल्लेखनीय है कि लोकसभा चुनाव में सपा नेता आजम खान के जीतने पर भाजपा प्रत्याशी जया प्रदा ने लाभ के पद पर रहते हुए चुनाव लड़ने का आरोप लगाते हुए उनके निर्वाचन को रद्द करने की मांग की थी। साथ ही रामपुर में फिर से लोकसभा चुनाव कराए जाने की मांग करते हुए भाजपा नेत्री जया प्रदा ने जुलाई में हाईकोर्ट में एक अर्जी भी दाखिल की थी। जया प्रदा का आरोप है कि आजम खान पहले से ही जौहर यूनिवर्सिटी में चांसलर यानी लाभ के पद पर हैं। इसलिए लाभ के पद पर रहते हुए चुनाव नहीं लड़ा जा सकता था।

इस खबर पर कमेंट करने के लिए यहां क्लिक करें

भाजपा नेत्री जया प्रदा की अर्जी पर सुनवार्इ करते हुए हाईकोर्ट ने आजम खान को नोटिस भी जारी किया गया था, लेकिन आजम खान के रामपुर में नहीं होने के कारण लंबे समय तक उन्हें नोटिस तामील नहीं कराया जा सका था। इस मामले को गंभीरता से लेते हुए रामपुर के जिला न्यायाधीश से रिपोर्ट मांगी थी। अब इस मामले में हाईकोर्ट के जस्टिस एसडी सिंह की अदालत में सुनवाई के दौरान जानकारी देते हुए बताया गया कि आजम खान को हाईकोर्ट की आेर से जारी नोटिस तामील कराया जा चुका है। इस दौरान आजम खान के अधिवक्ता भी मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें- योगी सरकार किसानों को देने जा रही बड़ा तोहफा, इस नई घोषणा से खुशी की लहर