स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

Azam Khan के करीबी पूर्व सीओ आले हसन खां ने राष्ट्रपति को भेजा पत्र, बोले कर लूंगा आत्महत्या

Jai Prakash

Publish: Dec 07, 2019 10:54 AM | Updated: Dec 07, 2019 10:54 AM

Rampur

Highlights

  • 55 मुकदमे दर्ज हैं आले हसन खां के ऊपर
  • रामपुर पुलिस पर लगाया उत्पीड़न का आरोप
  • राष्ट्रपति को भेजा पत्र

रामपुर: समाजवादी पार्टी के सांसद आजम खां और उनके करीबियों के खिलाफ लगातार दर्ज हो रहे मामलों पर जहां सियासीय गर्म है। वहीँ उनके करीबी रहे पूर्व सीओ आले हसन खां ने राष्ट्रपति को पत्र लिखकर आत्महत्या की बात कही है । उन्होंने रामपुर पुलिस पर उन्हें जबरन उत्पीड़न करने का आरोप लगाया है। राष्ट्रपति कार्यालय से स्थानीय प्रशासन को पत्र पहुंचते ही हड़कंप मच गया है। क्यूंकि आले हसन खां इस समय अंडर ग्राउंड हैं।

यह भी पढ़ें Rampur: पैन कार्ड को लेकर सपा सांसद आजम खान और उनके विधायक बेटे पर केस दर्ज- देखें Video

 

आजम के हैं करीबी

यहां बता दें कि आलेहसन खां भी सांसद आजम खां के करीबी लोगों में शुमार हैं। वह लंबे समय तक रामपुर में रहे और रिटायर्ड होने के बाद आजम खां की जौहर यूनिवर्सिटी में मुख्य सुरक्षा अधिकारी बन गए। आले हसन खां के खिलाफ 55 मुकदमे दर्ज हैं। उनके खिलाफ जौहर यूनिवर्सिटी के लिए जमीन कब्जाने के आरोप में 27 मुकदमे, जबकि डूंगरपुर और यतीमखाना प्रकरण में भी 25 मुकदमे दर्ज हुए हैं। पुलिस सभी मामलों की विवेचना कर रही है। यही नहीं आले हसन खां का लुक आउट नोटिस भी जारी हो चुका है। पुलिस को उनकी तलाश है लेकिन, हाथ नहीं आ रहे हैं। अब उन्होंने राष्ट्रपति को पत्र लिखकर सनसनी फैला दी है।

यह भी पढ़ें सीबीआई ने वेंकटेश्वरा ग्रुप के चेयरमैन के घर पर मारा छापा, दस्तावेजों की पड़ताल

पत्र मिलने की पुष्टि

वहीँ इस मामले में एसपी रामपुर डॉ.अजय पाल शर्मा ने बताया कि आले हसन ने राष्ट्रपति को जो पत्र लिखा है, वह जिला मुख्यालय पर आ गया है। पत्र में कहा है कि वह आत्महत्या कर लेंगे और इसके लिए एसपी जिम्मेदार होंगे।

[MORE_ADVERTISE1]