स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

अखिलेश यादव के दोबारा मुख्‍यमंत्री बनने को लेकर जया प्रदा ने की बड़ी भविष्‍यवाणी

sharad asthana

Publish: Sep 17, 2019 11:40 AM | Updated: Sep 17, 2019 12:16 PM

Rampur

Highlights

  • BJP नेता Jaya Prada ने Rampur में म‍ीडिया के सवालों के दिए जवाब
  • Mulayam Singh Yadav और Akhilesh Yadav पर जमकर निशाना साधा
  • Congress नेताओं के विरोध को लेकर भी Jaya Prada ने दी प्रतिक्रिया

रामपुर। समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के सांसद आजम खान (Azam Khan) के बचाव में हाल ही में सपा अध्‍यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) रामपुर पहुंचे थे। सपा संस्‍थापक मुलायम सिंह यादव (Mulayam Singh Yadav) भी आजम खान के बचाव में सपाइयों को सड़क पर उतरने का आह्वान कर चुके हैं। अब भाजपा (BJP) नेता एवं पूर्व सांसद जया प्रदा (Jaya Prada) ने मुलायम सिंह यादव और अखिलेश यादव पर जमकर निशाना साधा है।

'जो जैसा बोएगा, वैसा काटेगा'

भाजपा नेता एवं फिल्‍म अभिनेत्री जया प्रदा ने सोमवार को रामपुर में मीडिया के सवालों के जवाब दिए। उन्‍होंने कहा कि जब वह सांसद थीं तो उनके रामपुर आने पर अघोषित रोक लगा दी गई थी। उनको मुरादाबाद में रुकना पड़ता था। अब सांसद आजम खान रामपुर से भागे हुए हैं। जो जैसा बोएगा, वैसा काटेगा। सपा सांसद यह समझते हैं कि उनके खिलाफ कार्रवाई उनकी वजह से हो रही है। जैसा उन्‍होंने किया है, वैसा ही भुगत रहे हैं। आजम की गलतियों की सजा अब उनको मिल रही है।

यह भी पढ़ें: बड़ी खबर: राज्‍यसभा के लिए निर्विरोध निर्वाचित हुए सपा के यह पूर्व सांसद,19 को लेंगे शपथ

'भीख मांगकर छोटे-छोटे कमरे बनाए जा सकते हैं'

उन्‍होंने मुलायम सिंह पर निशाना साधते हुए कहा कि भीख मांगकर छोटे-छोटे कमरे बनाए जा सकते हैं जबक‍ि जौहर यूनिवर्सिटी तो हजारों हेक्टेयर में है। जया प्रदा ने यह प्रतिक्रिया मुलायम सिंह यादव के बयान पर दी। मुलायम सिंह ने कहा था कि आजम खान ने भीख मांगकर जाैहर यूनिवर्सिटी को बनाया है।

खबर पर कमेंट करने के लिए यहां क्लिक करें: https://www.facebook.com/PatrikaNoida/posts/3093918517316758?__tn__=-R

'कांग्रेस और सपा के बीच अघोषित गठबंधन है'

इसके अलावा जया प्रदा ने सपा अध्‍यक्ष अखिलेश यादव पर भी निशाना साधा। उन्‍होंने कहा कि अखिलेश यादव कहते हैं कि सपा की दोबारा सरकार आने पर आजम के सारे मुकदमे वापस हो जाएंगे, लेकिन अखिलेश यादव दोबारा मुख्‍यमंत्री की कुर्सी पर नहीं बैठ पाएंगे। जब सपा की सरकार थी तब वह भी सपा में थी लेकिन उनको न्‍याय नहीं मिला। कांग्रेस नेताओं के विरोध को लेकर भाजपा नेता ने कहा कि कांग्रेस और सपा के बीच अघोषित गठबंधन है। रामपुर में कांग्रेस के नेता आजम के खिलाफ आवाज उठा रहे हैं तो बड़े नेता उनका साथ देने की बात कह रहे हैं। आजम के साथ ही अखिलेश को भी गरीबों के आंसुओं का हिसाब देना पड़ेगा।

UP News से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Uttar Pradesh Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर