स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

झारखंड:मनरेगा के तहत हो रहे कुआं निर्माण में सुरक्षा मानको की अनदेखी,एक सप्ताह में दो अलग-अलग घटनाओं में चार की मौत

Prateek Saini

Publish: May 14, 2019 21:54 PM | Updated: May 14, 2019 21:54 PM

Ramgarh

पहली घटना लातेहार जिले के मनिका मनिका थाना क्षेत्र के बरवैया पंचायत के चामा गांव में मनरेगा के तहत खोदे जा रहे कूप धंसने से तीन मजदूरों की मौत मौके पर ही हो गई...

रांची,रामगढ़: गर्मी के मौसम में मनरेगा योजना के तहत झारखंड के विभिन्न हिस्सों में कुआं का निर्माण कराया जा रहा है, लेकिन कुआं निर्माण में सुरक्षा मानको की अनदेखी और मानवीय भूल अथवा लापरवाही के कारण कई लोगों को जान से भी हाथ धोना पड़ रहा है। झारखंड के लातेहार और रामगढ़ जिले में पिछले तीन दिनों में इस तरह की दो अलग-अलग घटनाओं में चार लोगों की मौत हो गयी।


पहली घटना लातेहार जिले के मनिका मनिका थाना क्षेत्र के बरवैया पंचायत के चामा गांव में मनरेगा के तहत खोदे जा रहे कूप धंसने से तीन मजदूरों की मौत मौके पर ही हो गई। बताया गया है कि बरवैया पंचायत के चामा गांव में पूरन सिंह के खेत में मनरेगा के तहत कुआं खोदा जा रहा था, कुआं खोदने के लिए तीन मजदूर अंदर उतरे थे, इसी दौरान अचानक उपर से मिट्टी गिरने से तीन मजदूरों की मौत हो गयी। मृतकों में जसवंत सिंह, दामोदर उरांव और नंददेव सिंह शामिल है। बाद में जेसीबी की मदद से सभी शवों को बाहर निकाला जा सका। इस हादसे में दो अन्य लोग घायल भी हो गये। जिन्हें इलाज के लिए स्थानीय अस्पताल में भर्त्ती कराया गया है।


इसी तरह हजारीबाग जिले के गिद्दी थाना क्षेत्र के तेतरिया टोला में शिव मंदिर के निकट रामगढ़ जिले के विकास मद से बन रहे कुएं का चाल धंसने से तीन लोग अंदर दब गये, लेकिन लोगों की तत्परता और राहत एवं बचाव दल के प्रयास से दो लोगों को सुरक्षित निकाल लिया गया, लेकिन एक मजदूर की मौत हो गयी। इस कुआं का निर्माण भी मनरेगा के तहत बड़का चुम्मा स्थित तेतरिया टोला में शिव मंदिर के पास कराया जा रहा था।