स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

Patrika Alert : जलस्त्रोतों पर यह रखा ध्यान, तो बच जाओगे हर आफत से

Laxman Singh Rathore

Publish: Aug 19, 2019 19:08 PM | Updated: Aug 19, 2019 19:08 PM

Rajsamand

पुलिस- प्रशासन को तत्काल करें कॉल, मदद को पहुंच जाएगा दस्ता

Risk of drowning in spill water at rain in rajasthan

लक्ष्मणसिंह राठौड़ @ Rajsamand

किसी भी Water स्त्रोत पर कुछ छोटी छोटी बातों का ध्यान रखा जाए, तो बड़ी से बड़ी मुसीबत और आफत को टाला जा सकता है। अगर पानी में कोई डूबने लगे, तो उसे तत्काल बाहर निकाल लो और प्राथमिक उपचार करें। फिर उसे अस्पताल ले जाए, ताकि कहीं हद तक उसकी जान बचाई जा सकती है। साथ ही प्रयास करना चाहिए कि जल्द से जल्द से Hospital ले जाया जा सकें। साथ ही तालाब, बांध में डूबे को निकालने के प्रयास करने से पहले तत्काल पुलिस, प्रशासन को सूचित कर देना चाहिए, ताकि साजो सामान के साथ एक्सपर्ट दल जल्द से जल्द पहुंच जाए और उसे जल्दी पानी से बचाकर बाहर निकाल लिया जाए।

यूं बचाए जान
CMHO डॉ. जेपी बुनकर ने बताया कि अगर आप के आसपास कोई पानी में डूब रहा हो तो उसे तुरंत पानी से निकालें और उसे उल्टा लिटाकर पेट दबाना चाहिए, ताकि पानी निकल जाए। डूबने से पीडि़त व्यक्ति की जान सीपीआर देकर बचाई जा सकती है। बेहोशी की स्थिति में एक बार मुंह से मुंह में सांस देनी चाहिए। फिर उसे तत्काल उपचार के लिए अस्पताल ले जाना चाहिए।

आफत में यहां करें संपर्क
केन्द्रीय बाढ़ नियंत्रण जयपुर 0141- 2702428
संभागीय बाढ़ नियंत्रण उदयपुर: 0294-24158 13
जिला नियंत्रण कक्ष : 02952-220103
जिला कलक्टर कंट्रोल रूम 220569
पुलिस नियंत्रण कक्ष 02952-220712 या 100
सिंचाई विभाग खंड नियंत्रण कक्ष नाथद्वारा : 02953-234619, आमेट 02908 -251120, देवगढ़ 02904-253134

मस्ती में गिर न जाए Mobile
तालाब, नदी के पानी में मस्ती के दौरान कहीं मोबाइल गिर न जाए, इसका खास खयाल रखें। क्योंकि अगर Mobile बंद हो गया, तो आप न तो मुसीबत में किसी का सहयोग लें सकेंगे और न ही आपके परिजन आपसे संपर्क कर पाएंगे। बारिश में भीगते, नहाते वक्त मोबाइल जेब में न रखें। प्लास्टिक पॉलीथिन में सुरक्षित लपेटकर रख सकते हैं, जिससे पानी घुस न पाए।

School Students पर रखे विशेष नजर
स्कूलों में अध्यापकों की कमी पहले से ही है। ऐसे में अधिकतर बच्चे कालांस के समय स्कूल से भागकर निकट के तालाब या नदी में जाकर मौज-मस्ती करते हैं। बच्चों पर अध्यापक व अभिभावक विशेष नजर रखें। अगर उन्हें तालाब या नदी में नहाना है तो अभिभावकों के साथ जाकर जगह की पूरी जानकारी रखते हुए लुत्फ उठाएं।

पिकनिक में यह रखें सावधानी
- बांध, तालाब की दीवार पर नहीं चढ़े
- बच्चों को भी बांध की पाल पर नहीं बिठाएं
-बांध, एनिकट व तालाब के ओवरफ्लो में नहाते समय पूरी सावधानी बरतें
- झरनों में पानी का वेग ज्यादा होने पर उसमें नहीं उतरें
- पहाड़ी क्षेत्र में जाते समय घने जंगल में नहीं जाएं, जंगली जानवरों के खतरे से बचें।
- पिकनिक स्पॉट पर विशेष तौर से बच्चों को हमेशा हाथ पकड़े रखें।
- सुरक्षा के संसाधन अपने साथ रखें
-परिजनों को जरूर दें जानकारी

Risk of drowning in spill water at rain in rajasthan