स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

कुंभकर्णी नींद लेता रहा प्रशासन, ठेकेदार गांव से ले गया लगी हुई हाइमास्ट और एलईडी लाइट

Laxman Singh Rathore

Publish: Aug 14, 2019 12:41 PM | Updated: Aug 14, 2019 12:41 PM

Rajsamand

highmast and LED light kunvathal कुंवाथल ग्राम पंचायत में मचा हड़कंप

प्रमोद भटनागर /मोहित माहेश्वरी
देवगढ़. राजस्थान पत्रिका में कुंवाथल ग्राम पंचायत एवं ठेकेदारों की मिलीभगत के मामले एवं टेण्डर से पहले ही १२ लाख के कार्य शुरू करने को लेकर 13 अगस्त के अंक में टेंडर से पहले ही शुरू 12 लाख का काम, शीर्षक के साथ प्रमुखता से खबर प्रकाशित की गई थी। खबर प्रकाशित होने के बाद कुंवाथल ग्राम पंचायत में एकाएक हड़कंप मच गया। ठेकेदार आननफानन में श्रमिकों एवं क्रेन की सहायता से हाइमास्ट लाइट एवं एलईडी लाइटों को खंभों सहित उठाकर ले गए। वहीं, मौके पर रखे गए अन्य सभी उपकरणों को भी तत्काल हटा लिया गया। हटाने की कार्यवाही के दौरान तक कोई भी अधिकारी मौके पर नहीं पहुंचे। इस दौरान कई ग्रामीण एकत्रित हो गए एवं कार्यवाही के फोटो खींचे और वीडियो बनाने लगे। इस पर ठेकेदार के आदमियों द्वारा वीडियो बनाने वालों को वहां से यह कहते हुए भगाया गया कि इससे कुछ नहीं होगा। जबकि, दूसरी ओर इस मामले में अब तक विकास अधिकारी से लेकर सरपंच, सचिव के पास से कोई जवाब नहीं मिला है।

highmast and LED light kunvathal matter

यह है मामला
ग्राम पंचायत कुंवाथल में हाईमास्ट एवं एलईडी लाइट के कार्य की १२ लाख रुपए की निविदा निकाली गई। इसमें बगतपुरा चौराहा पर १२ मीटर पोल पर १२० वॉट हाईमास्टलाईट लगाने की अनुमानित लागत ५ लाख, कुंवाथल बस स्टैण्ड से राआउमावि तक ७ मीटर पोल तक एलईडी लाइट लगाने की अनुमानित लागत ५ लाख, राआउमावि से बालिका विद्यालय तक ७ मी. पोल तक एलईडी लाइट लगाने के कार्य की अनुमानित लागत २ लाख रुपए एवं १४ अगस्त को निविदा फार्म बेचने का समय दोपहर १२ बजे, प्रस्तुति का समय दोपहर २ बजे एवं खोलने का समय दोपहर ३ बजे अंकित किया गया है। लेकिन, इन सभी में भीलवाड़ा के एक ठेकेदार द्वारा कार्य शुरू भी कर दिया गया, जबकि अभी टेण्डर खुलने में दो दिन और बाकी हैं।