स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

जन्माष्टमी पर आज रात 12 बजे देंगे श्रीजी को 21 तोपों की सलामी

Laxman Singh Rathore

Publish: Aug 24, 2019 12:10 PM | Updated: Aug 24, 2019 12:10 PM

Rajsamand

21 gun salute will be given to Shreeji

सुबह ठाकुरजी को कराया पंचामृत से स्नान, नंद महोत्सव कल

प्रमोद भटनागर

21 gun salute will be given to Shreeji
नाथद्वारा. पुष्टिमार्गीय वल्लभ सम्प्रदाय की प्रधानपीठ प्रभु श्रीनाथजी मंदिर में श्रीकृष्ण जन्माष्टमी का त्योहार शनिवार को धूमधाम से मनाया जा रहा है। इसके तहत श्रीजी बावा कोरात्रि को १२ बजे जन्म के समय २१ तोपों की सलामी दी जाएगी।

21 gun salute will be given to Shreeji
आराध्य प्रभु श्रीनाथजी के मंगला की झांकी के दर्शन प्रात: पौने पांच बजे खुले तो हजारों की संख्या में वैष्णव दर्शनों को उमड़ पड़े। इसके बाद तिलकायत राकेश महाराज ने आराध्य प्रभु की मंगला आरती करने के बाद ठाकुरजी को मंदिर में भव्य शंखनाद एवं पाठ के साथ दूध, मिश्री का बुरा, घी, शहद आदि से बने पंचामृत से स्नान करवाया। यही क्रम निधि स्वरूप लाड़ले लालन में भी चला। जबकि, सायंकाल ठाकुरजी के जागरण के दर्शन भी विशेष होंगे, जो रात्रि को लगभग ९ बजे खुलेेंगे और लगभग ढाई से पौने ३ घंटे तक चलने के बाद पौने १२ बजे बंद होंंगे। यहां की मान्यता एवं परंपरा रही है कि ठाकुरजी का जन्म जेल में हुआ था, ऐसे में यहां पर दर्शन नहीं खुलते हैं।
तोपों की सलामी रिसाला चौक में

भगवान श्रीकृष्ण के जन्मोत्सव के अवसर पर रात्रि को १२ बजे रिसाला चौक में दो तोपों की मदद से २१ बार सलामी दी जाएगी। इस अलौकिक नजारे का आनंद लेने बड़ी संख्या में श्रद्धालु पहुंचेेंगे, जहां पर विशेष व्यवस्था की जाएगी। इस दौरान मंदिर के कमांडिंग नरोत्तम गिरी के नेतृत्व में तोपें दागी जाएगी।
तिलकायत की ओर से बधाई आशीर्वाद 21 gun salute will be given to Shreeji

श्रीकृष्ण जन्माष्टमी के अवसर पर श्रीनाथजी मंदिर के तिलकायत व उनके पुत्र विशाल बावा ने सभी श्रद्धालु वैष्णवों को आशीर्वाद व बधाईयां दी है।
सायंकाल निकलेगी शोभायात्रा : जन्माष्टमी के अवसर ही मंदिर मंडल के तत्वावधान में शनिवार शाम ५.30 बजे रिसाला चौक से ठाकुरजी के प्राकट्य सहित विविध प्रसंगों की झांकियों के साथ शोभायात्रा निकाली जाएगी।
नंद महोत्सव कल
नंद महोत्सव का रविवार को मनाया जाएगा। ठाकुरजी के जन्म की खुशी में नंद घर आनंद भयो के जयकारों के साथ लालो आयो रे गुणगान के बीच मंदिर में श्रद्धालु वैष्णव केसर युक्त दही व छाछ आदि से सराबोर होते हुए नंद महोत्सव मनाएंगे।

ये रहेगा दर्शन समय
जन्माष्टमी के अवसर पर शनिवार को राजभोग के दर्शन दोपहर सवा 2 बजे से दो घंटे तक व भोग आरती के दर्शन सायंकाल पौने आठ बजे से आधा घंटे तक एवं जागरण के दर्शन रात्रि को ९ बजे खुलेंगे। इसी तरह नंद महोत्सव में केसर युक्त दही-छाछ छिड़काव प्रात: साढ़े 7 से १11बजे तक, मंगला एवं शृंगार दर्शन दोपहर सवा १२ बजे से आधा घंटे तक, राजभोग दोपहर सवा २ बजे से एक घंटे तक, उत्थापन रात्रि को साढ़े 7 बजे से आधे घंटे तक तथा भोग आरती की झांकी के दर्शन रात्रि को 8 बजे खुलेंगे, जो एक घंटे तक चलेंगे। इन दर्शनों के समय में परिवर्तन की संभावना भी रह सकती है।

जन्माष्टमी आज, गोगा नवमी कल
चारभुजा. कृष्ण जन्मोत्सव शनिवार को मनाया जाएगा, जिसको लेकर तैयारियंा अंतिम चरण में चल रही है। चारभुजाजी मंदिर पर आकर्षक डेकोरेशन किया गया है। वहीं, जन्मोत्सव के समय दागी जाने वाली तोप की सफाई भी की जा चुकी है। देवस्थान के मुल्तजिम तिलकेश पालीवाल ने बताया कि जन्मोत्सव पर रात 12 बजे तोप की सलामी के साथ बाल लला के पट खुलेंगे। वहीं, इससे पूर्व दिनभर दर्शन खुले रहेंगे। 21 gun salute will be given to Shreeji संध्या आरती के बाद पुजारीगण मंदिर प्रांगण मे हरजस का गान करेंगे, जो जन्मोत्सव तक चलता रहेगा। इसके बाद रविवार सुबह 11.30 बजे कृष्ण पोतड़े धोने की रस्म की जाएगी, जिसके तहत कड़ाह में हल्दिया रंग दही और केसर का घोल बनाकर पुजारीगण कृष्ण की बाल प्रतिमा पर पिचकारियों से रंग उड़ेलते हुए उत्सव मनाएंगे। इसके बाद नवयुक पुजारी समाज द्वारा दोपहर 1 बजे मटकी फोड़ प्रतियोगिता होगी।

21 gun salute will be given to Shreeji at 12 pm on Janmashtami tonight