स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

कोई मोबाइल पर बात करते मिला तो किसी के पास थी बिना नंबर की गाड़ी

Rajesh Kumar Vishwakarma

Publish: Nov 19, 2019 23:01 PM | Updated: Nov 19, 2019 19:08 PM

Rajgarh

-ट्रैफिक पुलिस ने की चालानी कार्रवाई
-भोपाल बाइपास और इंदौर रोड पर की सामूहिक कार्रवाई, ट्रैफिक नियमों की समझाइश दी

ब्यावरा. फोरलेन, हाईवे और बाइपास पर आए दिन हादसों के बाद ट्रैपिक पुलिस ने सख्ती शुरू की है। इसे लेकर एसपी के निर्देश पर ट्रैफिक पुलिस ने शृंखलाबद्ध चालानी कार्रवाई शुरू की। मंगलवार को भोपाल, इंदौर बाइपास पर ट्रैफिक की पुलिस की दो टीमों ने अलग-अलग कार्रवाई की, जिसमें करीब 100 से अधिक चालान बनाए।

ट्रैफिक सूबेदार ने बताया कि जिला पुलिस के निर्देश पर कार्रवाई की गई है, जिसके आधार पर कोई सीट बेल्ट लगाकर गाड़ी नहीं चल रहा था तो किसी के पास हेलमेट नहीं था। तो कइयों के पास बिना नंबर की गाडिय़ां थीं जिन्हें पुलिस ने रुकवाया और पूरी सर्चिंग की। साथ ही कुछ को समझाइश देकर भी छोड़ा।

इनमें से अधिकतर ऐसे वाहन चालक थे जिन्हें ट्रैफिक सेंस बिल्कुल भी नहीं है। कई बाइकों पर तीन-तीन लोग लदे हुए थे, तो कोई मोबाइल पर बात करते गाड़ी चला रहा था। पुलिस की इतनी सख्ती के बावजूद कई लोग रफ्तार से बाइक और कार दौड़ाते हुए बखौफ मोबाइल पर बात करते हुए चल रहे थे। इस दौरान कई वाहन चालकों ने खूब नेतागिरी करने की भी कोशिश की, इधर-उधर फोन भी लगाए लेकिन पुलिस ने किसी की एक न सुनी।

[MORE_ADVERTISE1]

सख्ती नहीं, चालकों को समझाइश के साथ सुरक्षा भी
एसपी प्रदीप शर्मा के निर्देश पर की कार्रवाई के पीछे उनकी मंशा है कि हाईवे पर आए दिन हो रहे हादसों पर नियंत्रण किया जाए।

इसके लिए बेहद जरूरी है कि लोगों में यातायात की समझ पैदा की जाए, उन्हें समझाया जाए कि रॉन्ग साइड से चलने के कारण भी हादसे हो सकते हैं, फोन पर बात करने से कितना नुकसान हो सकता है और हेलमेट लगा लेने मात्र से कितना फायदा है। एसपी ने स्पष्ट किया है कि ट्रैफिक पुलिस द्वारा की जा रही कहीं भी सख्ती या गलत दिशा में नहीं है, इसका मकसद सुरक्षा और सावधानी भर है।


लगातार जारी रहेगी कार्रवाई
ट्रैफिक सेंस के बारे में लोगों को बताना और बेहतर ट्रैफिक नियमों को लेकर यह सख्ती की गई है। करीब 100 से अधिक चालान दोनों ही जगह की गई कार्रवाई में बनाए गए हैं, आगे भी कार्रवाई जारी रहेगी।
- योगेंद्र मरावे, ट्रैफिक सूबेदार, थाना देहात

[MORE_ADVERTISE2]