स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

साबरमती 08, चंडीगढ़ एक घंटे देरी से रवाना, बाकी ट्रेनें भी प्रभावित

Rajesh Kumar Vishwakarma

Publish: Jan 17, 2020 11:32 AM | Updated: Jan 17, 2020 11:32 AM

Rajgarh

-कोहरे का असर
-घने कोहरे के कारण सड़क मार्ग के साथ ही रेल मार्ग भी बाधित हुआ

ब्यावरा. अचानक बदले मौसम के मिजाज के बाद छाए घने कोहरे के कारण सड़क मार्ग के साथ ही रेल मार्ग भी बाधित हुआ। रोड पर 100 मीटर तक के वाहन नहीं नजर आ रहे थे, इसलिए दिन में ही हेडलाइट लगाना पड़ी। साथ ही रेल्वे में भी 200 मीटर तक की विजिबिलिटी रही, जिससे कई रूटीन के साथ ही स्पेशल गाडिय़ां भी प्रभावित हुईं।


मक्सी-रुठियाई ट्रेक पर आम तौर रोजाना लेट रहने वाली साबरमती एक्सप्रेस आठ घंटे लेट रही। इंदौर-चंडीगढ़ एक्सपे्रस भी अपने तय समय से करीब एक घंटे देरी से ब्यावरा पहुंची। वहीं, इंदौर-कोटा 20 मिनट और बीना-नागदा पैसेंजर डेढ़ घंटे से अधिक देरी से रवाना हो पाई। इससे ठंडी हवाओं के बीच यात्रियों को खासी परेशानियों का सामना करना पड़ा।


वहीं, रात वाली गाडिय़ों में भी थोड़ी बहुत लेटलतीफी जारी है। हालांकि उत्तर भारत में जाने वाली लंबी दूरी की दो प्रमुख ट्रेनें उज्जैन और इंदौर-देहरादून एक्सप्रेस फरवरी तक बंद है। वहीं, इस ट्रेक पर बहुत ज्यादा लेट अन्य ट्रेनें भी नहीं है।

घंटेभर की बारिश से तरबतर हुआ शहर
कंपकपा देने वाली ठंड के बीच बुधवार रात घंटेभर हुई तेज बारिश से शहर तरबतर हो गया। तेज बारिश का पानी सड़कों पर बह निकला। बारिश के कारण फिजा में ठंडक घुल गई, पारा भी लुढ़क गया। बारिश का असर यह रहा कि गुरुवार सुबह से ही कोहरा छाया रहा। दिनभर बादल छाए रहे। इसी कारण ठंडी हवाएं चली और ठंड का प्रकोप भी बढ़ गया।

[MORE_ADVERTISE1]