स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

रिजर्वेशन काउंटर की मशीन खराब, स्टेशन से बैरंग लौटे यात्री

Rajesh Kumar Vishwakarma

Publish: Dec 12, 2019 12:17 PM | Updated: Dec 12, 2019 12:17 PM

Rajgarh

- रेल्वे स्टेशन पर नहीं हो पाए रिजर्वेशन
- पहले भी खराब हो गई थी काउंटर की थिनवेंट मशीन, रेल्वे ने ध्यान नहीं दिया तो यात्रियों की हुई फजीहत



ब्यावरा.जिले के एक मात्र बड़े रेल्वे स्टेशन ब्यावरा के एक मात्र रिजर्वेशन काउंटर पर भी बुधवार को रिजर्वेशन नहीं हो पाए। कई यात्रियों को बैरंग लौटना पड़ा। काउंटर की थिनवेंट मशीन खराब हो जाने के कारण टिकिट नहीं बांटे जा सके।
दरअसल, करीब 15 दिन पहले भी उक्त मशीन के खराब हो जाने के बावजूद रेल्वे के जिम्मेदार अधिकारियों ने इस ओर ध्यान नहीं दिया। ऐसे में बुधवार को दोबारा ऐसी स्थिति निर्मित हुई और मशीन में अचानक से खराबी आ गई। उससे न रिजर्वेशन हो पाए न ही टिकिट निकले।

ऐसे में रूटीन के टिकिट भी स्टेशन मास्टर के कक्ष वाले कम्प्यूटर से बांटना पड़े। यह तकनीकि दिक्कत पहले आने के बाद भी ठीक नहीं की गई थी। अब दोबारा दिक्कत आने से कई रिजर्वेशन फॉर्म तो ले लिए गए लेकिन किसी के भी रिजर्वेशन हुए नहीं। ऐसे में कई यात्रियों को खाली हाथ ही लौटना पड़ा।

वहीं, एक मात्र काउंटर पर कर्मचारी को भी खाली हाथ बैठे रहना पड़ा। दोपहर बाद तक भी मशीन ठीक नहीं हो पाई थी। बता दें कि उक्त मशीन के मैंटेनेंस और देख-रेख का जिम्मा गुना रेल्वे टीम के पास है लेकिन उनके द्वारा इस ओर ध्यान नहीं दिया जाता।

[MORE_ADVERTISE1]रिजर्वेशन काउंटर की मशीन खराब, स्टेशन से बैरंग लौटे यात्री[MORE_ADVERTISE2]

दूसरा काउंटर न वैकल्पिक व्यवस्था
बड़ी-बड़ी सुविधाएं मुहैया करवाने के दावे करवाने वाला रेल्वे यात्रियों के लिए रिजर्वेशन की वैकल्पिक व्यवस्था नहीं करवा पाया है। करीब एक लाख रुपए के टिकिट रोजाना बिकने के बावजूद एक अतिरिक्त टिकिट काउंटर रेल्वे नहीं लगवा रहा।

इसके लिए दर्जनों पर रेल्वे सलाहाकार समिति के सदस्य रेल मंडल के आला अधिकारियों से मांग कर चुके हैं और कई बार डीआरएम से भी इस संबंध में बात की जा चुकी है। बावजूद इसके इस पर भी किसी का ध्यान नहीं है। वैकल्पिक तौर पर लगवाई गई एटीवीएम (ऑटोमैटिक टिकिट वेंडिंग मशीन) भी किसी काम की नहीं है, वह रखी जरूर है लेकिन लोगों के काम ही नहीं आ पा रही.

मशीन में खराबी आई है
हम तो धीरे-धीरे टिकिट बना रहे हैं लेकिन मशीन में तकनीकि खराबी आ जाने कारण काम बंद किया गया। वैकल्पिक तौर पर दूसरी मशीन से यात्रियों को टिकिट बांटे गए। इस बारे में हमने वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत करवा दिया है।
- राजेश वर्मा, रिजर्वेशन सुपरवाइजर, रेल्वे स्टेशन, ब्यावरा

[MORE_ADVERTISE3]