स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

मैटरनिटी, ओटी में बनाए आउटर, क्लीन और प्रोटेक्टिव जोन

Praveen tamrakar

Publish: Oct 17, 2019 04:22 AM | Updated: Oct 16, 2019 23:54 PM

Rajgarh

प्रदेशभर में मातृत्व सुरक्षा को लेकर तमाम तरह के प्रयास स्वास्थ्य विभाग द्वारा किए जा रहे हैं।

ब्यावरा. प्रदेशभर में मातृत्व सुरक्षा को लेकर तमाम तरह के प्रयास स्वास्थ्य विभाग द्वारा किए जा रहे हैं। इनकी जमीनी हकीकत जानने के लिए भोपाल से टीम लक्ष्य ब्यावरा अस्पताल आएगी। 18-19 अक्टूबर को आने वाली टीम से पहले सिविल अस्पताल की बिल्डिंग को और हाईटेक किया जा रहा है।
अस्पतालों में मैटरनिटी और ऑपरेशन थियेटर के प्रोटोकॉल के हिसाब से सेटअप किया जा रहा है। इसके तहत ओटी और मैटरनिटी में अलग-अलग जोन बनाए गए हैं। इनमें आउटर जोन, क्लीन, प्रोटेक्टिव और फरटाइल जोन में इन्हें विभाजित किया गया है।

साथही अस्पताल में एंट्रेस से ही ऑपरेशन थियेटर और मैटरनिटी का डायरेक्शन दिखाती रेडियम की डाइरेक्शन पट्टी लगाई गई है। इससे सरकारी अस्पताल में प्राइवेट अस्पताल जैसा दृश्य निर्मित हो रहा है। इसके अलावा पूरे अस्पताल की अतिरिक्त सफाई में प्रबंधन लगा हुआ है। हालांकि आधुनिकता, नया सेटअप और तमाम प्रकार की व्यवस्थाएं कितने दिन रहती हैं यह बड़ी बात है। अकसर देखा गया है कि किसी बड़ेअधिकारी के आने के दौरान ही व्यवस्थाएं की जाती हैं और फिर उसी पुराने ढर्रे पर अस्पताल चलते हैं। फिलहाल तमाम डॉक्टर्स, मैटरनिटी स्टॉफ अपना बेहतर देने में लगे हैं। टीम लक्ष्य मैटरनिटी, सिजेरियरन, रेफरल केसेस, जच्चा-बच्चा का रेकॉर्ड सहित मातृत्व सुरक्षा से जुड़े तमाम बिंदुओं की जांच करेगी और उसी आधार पर रिपोर्ट होगी।

आखिरकार रिलीव हुए डॉ. कुकरेले
इधर, जिला अस्पताल और ?यावरा सिविल अस्पातल के लिए मुद्दा बने एनस्थैटिक डॉ. नरेश कुकरेले का रिलिविंग ऑर्डर आखिरकार बुधवार को निकल गया। जिला अस्पताल के डॉक्टर्स सहित अन्य जिम्मेदारों द्वारा जानबूझकर करीब महीनेभर से टाले जा रहे डॉ. कुकरेले की रिलिविंग पर दोबारा कमिश्नर, जेडी, कलेक्टर आदि का हस्तक्षेप होने के बाद उन्हें ब्यावरा भेज दिया गया है। अब वे ब्यावरा अस्पताल में ज्वॉइन करेंगे।

&राजगढ़ से डॉ. कुकरेले को रिलीव कर दिया गया है, हमारे पास ऑर्डर भी आ गया है। मैटरनिटी और ऑपरेशन थियेटर में हाईटेक व्यवस्थाएं की जा रही हैं। लक्ष्य टीम यहां का मुआयना करने आने वाली है, इसी को लकेर तैयारियां की गई हैं।
-डॉ. प्रदीप मिश्रा, प्रभारी, सिविल अस्पताल, ब्यावरा