स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

शराब पीने से रोका तो मां पर कर दिया जानलेवा हमला

Ram kailash napit

Publish: May 28, 2016 23:28 PM | Updated: May 28, 2016 23:28 PM

Rajgarh

सुठालिया के नालाझिरी गांव का मामला


ब्यावरा.शराब ने लाखों घर बर्बाद कर दिए और कई परिवारों की रोजी-रोटी छीन ली। आर्थिक समृद्धता और तरक्की में बाधा बन रही शराब ने लोगों को क्रूर बना दिया है।

ऐसा ही एक मामला ब्यावरा के सुठालिया क्षेत्र में सामने आया। शराब पीने से मना करने वाली मां पर बेटे ने जानलेवा हमला कर दिया। सिर में लट्ठ से की मारपीट से उसकी मां गंभीर रूप से घायल हो गई। सुठालिया पुलिस के अनुसार जतनबाई पति परमालसिंह भील (45) निवासी नालाझिरी के बेटे लेखराज पिता परमालसिंह और उसके दोस्त राजेंद्र भील ने महज इस बात पर उन पर हमला कर दिया कि उन्होंने शराब पीने से मना किया था। लट्ठ से किए हमले से जतनबाई के सिर पर गंभीर चोट आई हैं। पुलिस ने बताया कि लेखराज और राजेंद्र शराब पीकर गदर कर रहे थे। पड़ोस में रहने वाले राधेचरण भील से भी विवाद कर रहे थे। राधेचरण ने उसकी मां से कहा कि आपका बेटा शराब के नशे में विवाद कर रहा है इसे समझाइए, इस पर महिला बेटे और उसके दोस्त को समझाने लगी, लेकिन यह बेटे को नागवार गुजरी, उसने लट्ठ उठाकर मां के सिर पर ही वार कर दिया। पुलिस ने आरोपी बेटे और उसके दोस्त के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है।

शराब पीकर मारपीट करने का क्षेत्र का यह पहला मामला नहीं है। जिलेभर में कभी पत्नी, कभी भाई तो कभी मां से विवाद और मारपीट के मामले आम हो गए हैं। वर्ष 2015 में 1102 मारपीट के मामले शराब से संबंधित हुए हैं। साथ ही थानों में रोजाना होने वाले मारपीट, दहेज प्रताडऩा और छेड़छाड़ व दुष्कर्म के मामलों में शराब ही कारण बनती है।