स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

प्याज के बोनस के लिए और कितना इंतजार करेंगे किसान

Praveen tamrakar

Publish: Jan 19, 2020 04:10 AM | Updated: Jan 18, 2020 23:36 PM

Rajgarh

समर्थन मूल्य पर बोनस देने का भी वादा किया था, लेकिन आज तक यह राशि किसानों तक नहीं पहुंची है

राजगढ़. समर्थन मूल्य पर सरकार द्वारा प्याज खरीदी गई। इसके बदले बोनस देने का भी वादा किया गया था, लेकिन लंबा इंतजार करने के बाद भी आज तक यह राशि किसानों तक नहीं पहुंची है और यदि प्याज की कीमतों की बात करें तो वह आसमान छू रही हैं। हालांकि प्रदेश के 12 जिलों में यह राशि भेजी जा चुकी है। जबकि राजगढ़ में बेची गई प्याज के बोनस को लेकर आए दिन किसान राजगढ़ के चक्कर लगाते रहते हैं। लेकिन उनका इंतजार कब खत्म होगा।
यह मंडी प्रबंधन या फिर अन्य संस्थाएं नहीं बता पा रही। उल्लेखनीय है कि जिले में चार मंडियों में प्याज की खरीदी की गई थी। इनमें जीरापुर, ब्यावरा, नरसिंहगढ़, सारंगपुर शामिल हैं। इन मंडियों में किसानों ने पंजीयन कराते हुए अपना प्याज समर्थन मूल्य पर बेचा था। पिछले साल बेचे गए प्याज के समर्थन मूल्य का बोनस आना बाकी है।
बताया जा रहा है कि सरकार ने ऐसे जिले जहां प्याज की खरीदी कम मात्रा में हुई थी, वहां बोनस दे दिया है। उद्यानिकी विभाग के रिकार्ड को मानें तो जिले में 11096 किसान थे।

[MORE_ADVERTISE1]

अब उद्यानिकी विभाग ने इनकी संख्या 3146 बताई है। सवाल उठता है कि जब तीन हजार के लगभग किसानों को ही बोनस की राशि दी जानी है तो फिर आठ हजार किसानों के क्या फर्जी पंजीयन कराए गए थे। क्योंकि इतनी अधिक मात्रा में किसान पंजीयन कराने के बाद किसान प्याज ने बेचे यह समझ से परे नजर आता है। जीरापुर मंडी में प्याज खरीदी में खासी गड़बड़ी हुई थी। इसको लेकर जीरापुर के मंडी सचिव पर कार्रवाई भी की गई थी।
&कुछ जिलों में बोनस राशि आई है। जिले की भी डिमांड भेजी गई है। जल्द ही यहां के किसानों को भी बोनस मिलेगा।
प्रहलादसिंह, सहायक संचालक कृषि राजगढ़
& अन्य जिलों में दिए गए बोनस को लेकर हाल ही में विधायक दल की बैठक में हमने यहां के किसानों के बोनस का मामला उठाया था। जहां से शीघ्र ही इस तरह कार्रवाई करने का आश्वासन दिया गया है। सभी किसानों कोबोनस मिलेगा।
बापूसिंह तंवर, विधायक राजगढ़

[MORE_ADVERTISE2]