स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

गौ शाला सदस्यों से बोले ठेकेदार- नहीं बनाना स्लोप, करवा के बता देना नपा का कोई भी काम

Rajesh Kumar Vishwakarma

Publish: Jul 25, 2019 16:35 PM | Updated: Jul 25, 2019 16:35 PM

Rajgarh

-गौ शाला में नाली बनाई लेकिन नहीं बनाया स्लोप, गिर-पड़ रहीं गाय, सदस्यों का आरोप-
ठेकदारों ने साफ मना किया, सोशल मीडिया पर जमकर आलोचना

ब्यावरा. शहर की एक मात्र अधिकृत नृसिंह गौ-शाला में नगर पालिका द्वारा बनाई गई नालियों को लेकर विवाद छिड़ गया है। गौ शाला के बीचों-बीच से अंजनीलाल मंदिर के सामने से आई नालियों को ठेकेदारों ने खुला छोड़ दिया। इससे उसमें गाय गिर-पड़ रही है। ठेकेदारों ने भी वहां स्लोप बनाने से मना कर दिया। इस पर गौ शाला सदस्यों ने नपा में शिकायत दर्ज करवाई और सोशल मीडिया पर इसे वायरल भी किया है।


दरअसल, गौ-शाला में नाली निर्माण से पहले स्लोप बनाने की शर्त थी ताकि वहां गायों को निकलने में दिक्कत न हो लेकिन अब ठेकेदारों ने स्लोप बनाने से इनकार कर दिया। इससे परेशान गौ शाला सदस्यों ने प्रशासन से गुहार लगाई है कि यह काम प्राथमिकता से करवाएं। साथ ही उन्होंने आरोप लगाया कि जो टंकी उक्त ठेकेदारों ने बनाई है उसमें रेत की जगह चूरी डाली गई। रेत तो कहीं भी उपयोग में नहीं लाई गई। इससे पानी डालते ही उक्त टंकी लीकेज हो गई। नपा द्वारा लाखों रुपए लगाकर बनाई गई टंकी गौ शाला के भी काम नहीं आई।

वायरल की ठेकेदारों की मनमानी
ब्यावरा नगर पालिका द्वारा कहा कहा गया कि गौ शाला में अच्छा निर्माण हो पर नाली संबंंधित काम में ठेकदारों की कमीशनखोरी साफ-साफ दिख रही है। पूर्व पार्षद घनश्याम वर्मा और सुभाष पालीवाल से कहा गया कि नाली में आप स्लोप डालो ताकि इसमें गौ माता गिर रही है तो गौ शाला सदस्यों को धमकी दी गई कि नहीं डालना स्लोप, हमारे अधिकारी ने मना किया है और ज्यादा कुछ बोले तो अब नगर पालिका से कुछ भी काम करवा के बता देना, देखते हैं हम। उल्लेखनीय है कि इसी तरह की पोस्ट सोशल मीडिया पर पहले भी वायरल हुई थी, जिसमें नपा की अनदेखी उजागर की गई थी।

...और कुछ इस तरह के कमेंट्स आए पोस्ट पर
-ऐसे लोगों की वजह से ही भगवान नाराज है और लोगों को बूंद-बूंद के लिए तरसना पड़ रहा है।
-इन कमिशनखोरों की वजह से ही बारिश नहीं हो रही।
-30 प्रतिशत कमिशन के बाद टेंडर होते हैं कोई नहीं बोलेगा।
-सब कमिशनखोरी है, पूरी नगर पालिका भ्रष्टाचार में लिप्त है।
-पूरे ब्यावरा का कमिशन खाया, अब गौ माता को तो छोड़ दो।
(श्रीनृसिंह गौ शाला की फेसबुक वॉल पर की गई पोस्ट का कुछ अंश...)

हमें धमकी दी गई
हमने गौ माता की सुरक्षा के लिए नाली पर स्लोप बनाने का बोला जिसकी बात भी हुई थी तो ठेकेदारों ने हमें धमकी दी कि नहीं बनाएंगे स्लोप। अब कोई काम करवा के बता देना।
-प्रकाश कुशवाह, सदस्य, नृसिंह गौ शाला, ब्यावरा


मैंने किसी को मना नहीं किया
मैंने किसी को मना नहीं किया, मैं हमेशा मदद करता हूं। ठेकेदारों से बात करूंगा, क्यों ऐसी स्थिति बनी। प्राथमिकता से गौ शाला की नाली पर स्लोप बनावाया जाएगा।
-इकरार अहमद, सीएमओ, नपा, ब्यावरा