स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

समारोह में अचानक होने लगी मारपीट, पीएम और सीएम के खिलाफ नारेबाजी

Bhanu Pratap Thakur

Publish: Sep 23, 2019 10:43 AM | Updated: Sep 23, 2019 10:43 AM

Rajgarh


ग्रामीण बोले दबंगों ने एक गीत पर आपत्ति जताते हुए की मारपीट

खिलचीपुर। भोजपुर थानान्तर्गत आने वाले ग्राम अहिल्यापुरा में एक चल समारोह के दौरान दो पक्षों में विवाद हो गया। जिसके बाद यह मामला थाने तक पहुंच गया। हालांकि करीब 100 लोगों के थाने पर पहुंचने के बाद भी कार्रवाई देर शाम भी नहीं हो सकी थी। यहां शिकायतकर्ताओं का कहना था कि उनके साथ गांव के दबंगों ने मारपीट की है। जबकि पुलिस इस मामले में जांच की बात करती रही।

 

रामदेव का जुलूस निकाला जा रहा था
रविवार की सुबह हर साल की तरह अहिल्या गांव में दलित समाजजन द्वारा भगवान बाबा रामदेव का जुलूस निकाला जा रहा था। जो शांतिपूर्ण तरीके से चल रहा था। लेकिन ग्रामीणों की माने तो जुलूस के दौरान ही एक गाना चलाया गया। जिसमें बाबा भीमराव अंबेडकर का जिक्र था। जिसको लेकर गांव के कुछ लोगों ने चल समारोह के दौरान इस गाने को न चलाने के लिए कहा। लेकिन उसे जब दोबारा चलाया तो विवाद बढ़ गया। थाने पहुंचे ग्रामीणों ने बताया कि जिस समय विवाद हुआ पहले यह अभद्रता तक सीमित था। बाद में मारपीट पर लोग उतारू हो गए। ऐसे में जुलूस को छोडक़र वे भोजपुर थाने पहुंच गए और अपनी शिकायत दर्ज कराई।

गांव में था मंत्री का कार्यक्रम-
इस आयोजन के बाद गांव में ऊर्जा मंत्री प्रियव्रतसिंह का भी कार्यक्रम था। लेकिन यह पूरा कार्यक्रम बगैर किसी शिकायत के संचालित होता रहा। वहीं ग्रामीणों ने बताया कि इस तरह का ऐसा कोई मामला यहां नहीं हुआ है। जिसमें किसी के साथ मारपीट की गई हो। बात जो भी हो। लेकिन इतनी बड़ी संख्या में दलित समाज के लोगों का थाने तक पहुंचना कहीं न कहीं जांच का विषय है।

 

मोदी और कमलनाथ के खिलाफ नारेबाजी-
भोजपुर थाने पहुंचने के बाद जब पुलिस के जिम्मेदार अधिकारी थाने में नहीं मिले तो ग्रामीणों ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के खिलाफ नारेबाजी की। यहां ग्रामीणों न बताया कि उन पर हुए हमले में शांतिबाई नाम की महिला के पेट में चोंट आई और एक बच्चे को पैर में चोंट आई जो नजर आ रही है। वहीं अन्य लोग भी घायल हुए है। आयोजन में महिला पुरूष और बच्चे सभी शामिल थे।


गांव में एक जुलूस निकाला जा रहा था। जिसमें कुछ विवाद की सूचना ग्रामीण दे रहे है। लेकिन इस मामले में क्या सच्चाई है। यह पूरी जांच के बाद ही पता लगेगा। थाने शिकायत करने आए लोगों का कहना है कि जब वे चल समारोह में कोई भीमराव अंबेडकर से जुड़ा गाना बजा रहे थे तो गांव के कुछ लोगों ने उन्हें मना करते हुए मारपीट की। लेकिन गांव में एक मंत्री जी का कार्यक्रम था। मैं वहां गया था ऐसी कोई जानकारी नहीं लगी। पुलिस मामले की जांच कर रही है।
भानसिंह प्रजापति, थाना प्रभारी भोजपुर