स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

जिसने ACCIDENT किया वो भाग गया, और लोगों ने मदद करने वाले की धुनाई कर डाली, देखें वीडियो

Rajesh Kumar Vishwakarma

Publish: Sep 19, 2019 17:47 PM | Updated: Sep 19, 2019 17:52 PM

Rajgarh

-प्रशासन की लापरवाही का परिणाम

-पुल पर हो रहे बड़े-बड़े गड्ढ़े बने कारण, एक ट्रॉली मूरम नपा डाल देती तो नहीं होता हादसा

ब्यावरा। सरकार और आम आदमी के बीच की कड़ी माने जाने वाली प्रशासनिक व्यवस्था से हर दिन जनता का मोह भंग हो रहा है। जिम्मेदार अधिकारियों की लापरवाही के चलते गुरुवार को दो बाइक सवार लोग गंभीर हादसे का शिकार हो गए।
जानकारी के अनुसार गुरुवार दोपहर करीब एक बजे न्यू सिविल अस्पताल रोड पर अजनार की पुल पर एक कार (एमपी04सीवी1628) ने अलग-अलग बाइक लेकर खड़े दो लोगों को टक्कर मार दी। बगल में पुल पर लगा लोहे का एंगल आ जाने से उनके पांव में गंभीर चोटें आई है।

गंभीर चोटें आई
हादसे में बाइक सवार फुलसिंह पिता लालजीराम वर्मा (45) निवासी हबीपुरा और रामचंद्र पिता सालगराम दांगी (55) निवासी पड़ोनिया को गंभीर चोटें आई है। घायलों को उपचार के लिए सिविल अस्पताल पहुंचाया गया, जहां से उनमें से एक को रेफर कर दिया गया। पुलिस ने कार चालक के खिलाफ धारा-279, 337 के तहत मामला पंजीबद्ध कर लिया गया है।

गाड़ी साइड लगाने वाले को चालक समझ पीटा
मौके पर मौजूद लोगों ने बताया कि आक्रोशित लोगों ने कार वाले की धुनाई कर दी। हालांकि मौके से कार वाला गायब हो गया तभी वहां एक अन्य व्यक्ति ने ट्रैफिक जाम को दुरुस्त करने कार एक तरफ लगाना चाही इतने में वहां मौजूद आक्रोशित भीड़ ने उसे ही पीट दिया।

विवाद की स्थिति बनीं
काफी देर तक विवाद की स्थिति बनीं, बाद में पहुंची पुलिस ने मामला शांत किया। घायलों को हालांकि गाड़ी वाला ही अस्पताल लेकर पहुंचा लेकिन वहां भी विवाद की स्थिति बनीं।

 

हर दिन निकलना फिर भी कहां गई जिम्मेदारों की संवेदना?
सिविल अस्पताल एक मात्र ऐसा रोड है जहां शहर के तमाम वरिष्ठ अधिकारियों को दिन में दो या तीन बार आना-जाना होता है। बावजूद इसके किसी की संवेदना नहीं जागी।

rah.jpg

जिम्मेदार बिना किसी हादसों के सबक लेंगे
एसडीम, तहसीलदार, सीएमओ, पीडब्ल्यूडी के इंजीनियर्स सहित तमाम जिम्मेदार अधिकारी सभी यहीं से गुजरते हैं लेकिन उन्हें आम जनता की यह दिक्कत नजर नहीं आती। महज एक ट्रॉली मटेरियल के फेर में गुरुवार को दो लोगों के पांव चोटिल हो गए। एक को ज्यादा चोटें आई है। आखिर कब हमारी प्रशासनिक व्यवस्थाएं सुधर पाएंगी? कब जिम्मेदार बिना किसी हादसों के सबक लेंगे?



ध्वस्त पुल पर कार ने कुचल डाले दो लोगों के पांव, लोगों ने चालक को धुना, फिर जो हुआ देखें वीडियो

डलवाई थी मूरम, बह गई
पहली बार में ही हमने मूरम डलवा दी थी लेकिन वह दोबारा नदी के उफान पर आने से बह गई। अब हम दोबारा उक्त ग।ड्ढों की मरम्मत करवाएंगे।
-इकरार अहमद, सीएमओ, नपा, ब्यावरा