स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

LPG सिलेंडर पर मिलता है मुफ्त में 50 लाख रुपए तक का बीमा कवर ऐसे करा सकते हैं क्लेम

Karunakant Chaubey

Publish: Sep 20, 2019 19:11 PM | Updated: Oct 04, 2019 15:05 PM

Raipur

अगर आप इसका सावधानी पूर्वक इस्तेमाल ना करें तो ये आपके लिए काफी खतरनाक भी हो सकता है। इसी जोखिम से उबारने के लिए जब आप एलपीजी सिलेंडर का कनेक्शन लेते हैं तो आपको 50 रुपए तक का मुफ्त बीमा कवर मिलता है।

 

रायपुर. LPG GAS CYLINDER INSURANCE COVER: खाना पकाना है तो गैस की जरूरत पड़ती ही है। गैस के भी बाकियों की तरह फायदे के साथ नुक्सान भी है। अगर आप इसका सावधानी पूर्वक इस्तेमाल ना करें तो ये आपके लिए काफी खतरनाक भी हो सकता है। इसी जोखिम से उबारने के लिए जब आप एलपीजी सिलेंडर का कनेक्शन लेते हैं तो आपको 50 रुपए तक का मुफ्त बीमा कवर मिलता है।

जानिये, अचानक क्यों कट रहे हैं आपके बैंक अकाउंट से पैसे और इससे जुड़े जरुरी नियम

छत्तीसगढ़ के ग्रामीण इलाकों में LPG GAS CYLINDER की वजह से बहुत ही दुर्घटनाये होती है। इस सुविधा का लाभ बहुत ही कम लोग उठा पातें हैं और इसकी वजह है जानकारी का अभाव। सभी रजिस्टर्ड उपभोक्ताओं को पंजीकृत आवास पर गैस सिलेंडर की वजह से दुर्घटना की सूरत में मुफ्त बीमा की सुविधा दी जाती है।

बैंकों की तरह POST OFFICE भी दे रहा फ्रेंचाइजी, बस 5000 जमा कर कमा सकते हैं लाखों

अगर कभी किसी ग्राहक के घर पर एलपीजी गैस से किसी तरह का नुकसान होता है तो ऐसी सूरत में वह बीमा के लिए क्लेम कर सकता है। ग्राहक का पूरा परिवार बीमा क्लेम के अंतर्गत आता है। यानि की परिवार के किसी भी सदस्य के साथ सिलेंडर की वजह से कोई नुकसान होता है तो बीमा के लिए क्लेम किया जा सकता है।

ऐसे कर सकते हैं क्लेम

आइये जानते हैं की इसके तहत अगर आप या आपके परिवार को किसी तरह की क्षति पहुँचती है तो इस सुविधा का लाभ कैसे उठायें। इसके लिए ग्राहकों को कुछ तय प्रक्रिया को फॉलो करना होगा जिसके बाद आसानी से बीमा के लिए क्लेम किया जा सकता है। हादसे की सूरत में सबसे पहले तो आपको नजदीकी थाने में जाकर शिकायत दर्ज करवानी होगी। इसके बाद आपको कुछ दिन के भीतर ही डिस्ट्रीब्यूटर को इसकी सुचना देनी होगी।

EPFO: प्रदेश के पीएफ खाताधारकों को त्योहारों से पहले ही मिलेगी खुशखबरी, मिलेगा 8.65 प्रतिशत ब्याज

इसके बाद डिस्ट्रीब्यूटर ऑयल कंपनी और बीमा कंपनी को इस बारे में सुचना देगा। वहीं दुर्घटना में मृत्यु होने पर जरूरी सर्टिफिकेट भी मुहैया कराने होते हैं। इसके बाद मामला रीजनल कार्यालय और फिर रीजनल कार्यालय बीमा कंपनी को सौंप दिया जाता है। इसके बाद बीमा कंपनी सभी पहलूओं की जांच करने के बाद आपको बीमा की राशि मुहैया करवा देगी।

Read Also: बेहोशी की हालत में सोई हुई है सरकार, सारे विकास के काम बंद- पूर्व मुख्यमंत्री