स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

पुलिस कांस्टेबल की बाइक से चोरों ने दिया घटना को अंजाम, मॉर्निंग वॉक पर...

Bhupesh Tripathi

Publish: Aug 19, 2019 21:56 PM | Updated: Aug 19, 2019 21:56 PM

Raipur

तीन दिन बाद लावारिस हालात में मिली बाइक, आरोपियों का अब तक नहीं चला पता

रायपुर। छत्तीसगढ़ के राजधानी में चोरों का हौसला बढ़ते जा रहा है।समाज से अपराध और गलत काम को रोकने वाले ही इन शातिर चोरों के शिकार बन रहें हैं।शातिर और निडर लुटेरे अब अपराध करने के लिए पुलिस वालों की गाड़ी का ही इस्तेमाल करने लगे हैं। दरअसल राजधानी रायपुर में हुए दो चेन स्नेचिंग मामले में एक नया मोड़ सामने आया है।लूटने वालों ने घटना को अंजाम देने में जिस बाइक का इस्तेमाल किया था, वह एक पुलिस वाले की बाइक है।

नाबालिग बेटी का बढ़ता पेट देख घर वालों ने पूछा- ये कैसे हुआ, बोली- फरेबी आशिक ने प्यार में...

मिली जानकारी के अनुसार समता कॉलोनी में मॉर्निंग वॉक पर निकली बुजुर्ग महिला पुष्पा साहू और सब्जी कारोबारी लखनलाल साहू की सोने की चेन लुटेरों कर दी।बाद में खुलासा हुआ कि लुटेरों ने पहले पुलिस आरक्षक की पल्सर बाइक चुराई। फिर उसी से चेन स्नेचिंग की दोनों वारदात को अंजाम दिया। इसके बाद भाग निकले। लूट में इस्तेमाल हुई बाइक सोमवार को लावारिस हाल में तेलघानीनाका ओवरब्रिज के नीचे मिली। इसे गंज पुलिस ने बरामद कर लिया है।

छत्तीसगढ़ के इन 36 भाजियों को मिलने जा रहा है राष्ट्रीय पहचान, केंद्र सरकार ने कहा...

ऐसे हुई थी घटना
आरक्षक राजेश सिंह सोरी जेल प्रहरी के रूप में पदस्थ है। 15 अगस्त की रात वह सत्कार मेडिकल गली स्थित सुप्रीम डीलक्स होटल में ठहरे थे। उनकी पल्सर बाइक सीजी 04 एमके 0349 होटल परिसर में खड़ी थी। सुबह उठे, तो बाइक गायब थी। उन्होंने होटल का सीसीटीवी फुटेज चेक करवाया। इससे पता चला कि रात करीब 4 बजे एक युवक पहुंचा और उसने झटका देकर बाइक का लॉक तोड़ दिया। उसका दूसरा साथी दूर खड़ा था। बाइक को कुछ दूर ले जाने के बाद डायरेक्ट करके स्टार्ट करके दोनों चले गए।

सवर्णों के 10 % आरक्षण के लिए CM भूपेश बघेल ने कहा - जल्द होगा फैसला, पढ़े क्या है खास

दो जगह की लूट
उसी बाइक से दोनों आरोपियों ने सबसे पहले कोतवाली इलाके में सुभाष स्टेडियम के पास सुबह करीब 5.40 बजे सब्जी विक्रेता संघ के अध्यक्ष लखनलाल साहू को रोका और सिर पर डंडा मारा। इसके बाद उनका सोने का चेन लूटकर भाग निकले। इसके बाद आरोपी वहां से समता कॉलोनी पहुंचे। और टहलने निकली बुजुर्ग महिला पुष्पा के गले से सोने का चेन लूटकर भाग निकले थे।

मॉर्निंग वाक के दौरान प्रताड़ित करता था पड़ोसी युवक, 20 बर्षीय युवती को नहीं हुआ सहन और...

खुफिया कैमरे में हुए कैद
शहर के कुछ प्रमुख स्थानों पर स्मार्टसिटी प्रोजेक्ट के तहत खास तरह के सीसीटीवी कैमरे लगे हैं, जो वाहनों के नंबर प्लेट को स्कैन करते हैं। इन कैमरों में लुटेरों की बाइक का नंबर कैद हो गया। गाड़ी नंबर से जेल प्रहरी के बारे में पता चला। पुलिस की टीम जेल प्रहरी तक पहुंची। पूछताछ के बाद होटल के सीसीटीवी कैमरों की जांच की। इसमें दोनों लुटेरे नजर आए। बाइक कुछ और स्थानों पर नजर आई है। इसके बाद पता नहीं चला। आरोपियों को पुलिस अब तक ढूंढ नहीं पाई है।

बेटीयों ने खोला मौत का राज, बोलीं - पापा को शक था माँ किसी और के साथ.. इसलिए किया ये काम

चोरी की रिपोर्ट दर्ज कराई थी
जेल प्रहरी राजेश सिंह ने बताया कि मेरी पल्सर बाइक सीजी 04 एमके 0349 होटल के पास खड़ी थी। सुबह करीब 4 बजे बाइक चोरी करते हुए दो लोग दिखे थे। इसकी एफआईआर गंज थाने में दर्ज कराई गई है। सोमवार को बाइक लावारिस हाल में मिलने की जानकारी मिली है।

तलाकशुदा महिला का 2 साल तक करता रहा बलात्कार, लिफ्ट देने के बहाने हुई थी मुलाकात

बंद कैमरों ने बढ़ाई परेशानी
पुलिस ने शहर भर में मिशन सिक्योरसिटी के तहत 8 हजार 500 से अधिक सीसीटीवी कैमरे लगवाए थे। इसमें चौक-चौराहा, प्रमुख मार्ग, व्यापारिक व शैक्षणिक संस्थान भी शामिल हैं। समता कॉलोनी और कोतवाली में हुई चेन स्नेचिंग की जांच के लिए पुलिस ने सीसीटीवी कैमरों की जांच की, तो अनेक बंद और खराब मिले। अगर ये कैमरे चालू होते, तो लुटेरों की पहचान आसानी से हो सकती थी।

Click & Read More Chhattisgarh Crime News.