केबल TV प्लान: पहले 200 रुपए में मिलते थे 300 चैनल, अब दोगुना महंगा हुआ प्लान

Deepak Sahu

Publish: Feb 04, 2019 14:48 PM | Updated: Feb 04, 2019 15:12 PM

Raipur

उपभोक्ताओं को फ्री टू एयर चैनल नहीं मिलेगा,वहीं अब केबल चैनल डेढ़ से दो गुना महंगा हो चुका है।

रायपुर. टेलीकॉम रेग्युलेटरी अथारिटी ऑफ इंडिया (ट्राई) के नए फैसलों के बाद राजधानी के ढ़ाई लाख से अधिक उपभोक्ताओं को फ्री टू एयर चैनल नहीं मिलेगा,वहीं अब केबल चैनल डेढ़ से दो गुना महंगा हो चुका है। इससे पहले 200 से रुपए में केबल ऑपरेटर 300 से अधिक चैनल उपलब्ध करा देते थे, लेकिन अब 200 रुपए की कीमत बढक़र कम से कम 300 से 500 रुपए हो चुकी है।

छत्तीसगढ़ के ऑपरेटरों ने चैनल्स के खिलाफ इस लड़ाई में अपने उपभोक्ताओं का साथ मांगा है। 31 जनवरी को सुबह 8 बजे से रात 12 बजे तक पूरे छत्तीसगढ़ में केबल बंद रखने के बाद 2 फरवरी को केबल फेडरेशन ऑफ इंडिया के छत्तीसगढ़ इकाई की बैठक हुई, जिसमें निर्णय लिया गया कि कंपनी के भारी भरकम शुल्क के खिलाफ उपभोक्ताओं का साथ लेकर कीमतों चैनलों का बहिष्कार किया जाएगा।

न्यूनतम 130 रुपए में 100 चैनल
केबल ऑपरेटर संघ के मुताबिक न्यूनतम फ्री टू एयर चैनलों के लिए कम से कम 130 रुपए का भुगतान करना होगा, वहीं इसके बदले में 100 चैनलों का प्रसारण किया जाएगा।

क्षेत्रीय भाषाओं के चैनल 10 से 15 रु. तक
नए नियमों के मुताबिक क्षेत्रीय भाषााओं के चैनलों की कीमत 5 से 13 रुपए तक बढ़ चुकी है, वहीं इसके अलावा न्यूज, संगीत, फिल्म व अन्य मनोरंजन चैनल्स के लिए उपभोक्ताओं को अलग से शुल्क देना होगा। केबल ऑपरेटरों के अपने उपभोक्ताओं को चैनल्स पसंद करने के लिए एक फॉर्म जारी किया है।

फ्री चैनल के लिए 150 रुपए का भुगतान
छत्तीसगढ़ इकाई के अध्यक्ष डॉ. सुबोध कटियार ने बताया कि नए नियमों के बाद फ्री टू एयर चैनलों के लिए अब उपभोक्ताओं को 150 रुपए जीएसटी सहित प्रतिमाह भुगतान करना होगा। अलग-अलग चैनलों के लिए पृथक से शुल्क देना पड़ेगा। 1 फरवरी से फ्री चैनल बंद होने का एलान किया गया था, लेकिन ऐसा नहीं किया गया है। संभवत: 5 ये 6 फरवरी से चैनल बंद हो जाए।

एक नजर में...
छत्तीसगढ़ की राजधानी में केबल उपभोक्ता- 2.50 लाख से अधिक
राजधानी में केबल ऑपरेटर- 250
प्रदेश में केबल उपभोक्ता-10 लाख से अधिक
प्रदेश में केबल ऑपरेटर-लगभग 5000