स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

नक्सलियों के धमकी भरे खत से क्षेत्र में दहशत, पुलिस चला रही सर्चिंग अभियान

Vasudev Yadav

Publish: Sep 17, 2019 18:18 PM | Updated: Sep 17, 2019 18:18 PM

Raigarh

Naxalites: नक्सलियों के धमकी भरे खत से क्षेत्र में दहशत का माहौल है, वहीं पुलिस भी सक्रिय हो गई है और मुखबिर का जाल बिछा दिया है।

रायगढ़. बीते दिनों सारंगढ़ थाना क्षेत्र अंतर्गत लीमगांव और खोकसीपाली में सरपंच व बीडीसी के घर के आंगन में पर्चा फेंक खुद को नक्सली बताने वाले तथा लाखों की डिमांड करने वाले आरोपियों को पकडऩेे पुलिस ने जंगल इलाके में ही मुखबिर का जाल बिछा दिया है। वहीं माओवादी मूवमेंट को देखते हुए लगातार सर्चिंग अभियान चलाया जा रहा है। लेकिन अब तक पुलिस को न तो अज्ञात आरोपियों का कोई सुराग मिला है और ही कोई नक्सली मूवमेंट मिला है।

Read More: सरपंच और बीडीसी के घर के आंगन में नक्सलियों ने फेंका पर्चा, लाखों रुपए की डिमांड, मांग पूरी नहीं होने पर जान से मारने की धमकी...
ऐसे में पुलिस का मानना है कि यह किसी शरारती तत्वों की ही करतूत है। वरना पुलिस को नक्सलियोंं की चहलकदमी का पता चल जाता। हालांकि पुलिस इसे हल्के में भी नहीं ले रही है, इसलिए दिन रात लीमगांव-खोकसीपाली सहित आसपास के जंगलों के पेट्रोलिंग की जा रही है। पुलिस सूत्रों की मानें तो घटना के बाद पुलिस ने लीमगांव व खोकसीपाली के एक-एक ग्रामीणों से पूछताछ कर रही चुकी है। वहीं तथाकथित माओवादी सरपंच को जिस देव स्थल पर रुपए छोडऩे की बात पर्चे में लिखे थे। वहां भी जाकर पुलिस ग्रामीणों को व मवेशी चराने वालों से पूछताछ कर चुकी है कि कहीं कोई अजनबी व्यक्ति या संदिग्ध लोगों को किसी ने देखा तो नहीं, लेकिन किसी ने ऐसे लोगों को देखने की जानकारी नहीं दी है। ऐसे में पुलिस ने जंगल क्षेत्र में रहने वाले लोगों को सतर्क करते हुए तत्काल किसी बाहरी व्यक्ति को देखने पर पुलिस को सूचना देने की बात कही है। वहीं जंगल क्षेत्र में मुखबिर का जाल भी बिछाया गया है। हालांकि अभी तक पुलिस को कोई सफलता हासिल नहीं हुई है।

Read More: सो रहे नाती ने चिल्लाया तो जाग गई नानी, भागते हुए सांप को पकड़ा तो उसे भी डसा, दोनों की मौत

नहीं है किसी से विवाद
शरारती तत्वों की करतूत को देखते हुए पुलिस ने सरपंच व बीडीसी से पूछताछ भी कर चुकी है कि उनका किसी से कोई विवाद तो नहीं, लेकिन दोनों ने पुलिस से कहा कि वे ग्रामीणों के साथ तालतेल बिठा कर रखते हैं। उनका किसी से कोई विवाद नहीं है। खैर पुलिस अपने स्तर से अज्ञात आरोपियों की पतासाजी कर रही है।

संदिग्धों का लेंगे हैंडराइटिंग करेंगे मिलान
पुलिस ने बताया कि जिस पर पुलिस को शंका होगी उसका हैंडराटिंग लेकर उक्त पर्चा से मिलान किया जाएगा। क्योंकि पुलिस अब तक यही मान रही है कि यह गांव के ही किसी असामाजिक तत्वों की करतूत है। ऐसे में पुलिस ने संदिग्धों की धरपकड़ भी शुरू कर दी है।

Read More: मर्करी बदलते समय 11 हजार केवी के विद्युत तार को छू गया पोल, तीन मजदूर की दर्दनाक मौत

क्या था मामला
बीते शुक्रवार की रात अज्ञात लोगों ने खोखसीपाली गांव के सरपंच मालिकराम साहू व लीमगांव के बीडीसी चिंताराम साहू के घर बाहर एक पर्चा फेंका था। जिसमें उन्होंने खुद को नक्सली बताकर मालिक राम से दो लाख व बीडीसी से चार लाख रुपए की मांग की थी। वहीं मांग पूरी नहीं होने पर पीडि़त व उसके परिवार वालों को जान से मारने की धमकी दी थी। इसके बाद से क्षेत्र में दहशत का माहौल है। साथ ही पुलिस अज्ञात आरोपी की पतासाजी में जुट गई है। ज्ञात हो कि कुछ माह पहले भी सारंगढ़ थाना क्षेत्र अंतर्गत एक अज्ञात व्यक्ति खुद को नक्सली कमांडर बता कर फोन पर कुछ व्यवसायियों से चावल और चंदा की मांग कर उन्हें धमकी दे चुका है। इसकी शिकायत भी थाने में की गई है, लेकिन यह मामला भी अभी तक नहीं सुलझ पाया है। इससे क्षेत्र के लोग भयभीत हैं।

-पीडि़तों से पूछताछ की जा रही है कि उनका किसी से कोई विवाद तो नहीं। साथ ही ग्रामीणों व आसपास के लोगों से भी किसी बाहरी व्यक्ति को गांव में आने व देखे जाने के संबंध में पूछताछ चल रही है। अभी आरोपियों का कोई सुराग नहीं मिला है, जांच जारी है। जितेन्द्र खुंटे, एसडीओपी, सारंगढ़