स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

कैसे गई शराब दुकान में काम करने वाले सेल्समैन की नौकरी, पढ़िए पूरी खबर

Vasudev Yadav

Publish: Aug 09, 2019 19:35 PM | Updated: Aug 09, 2019 19:35 PM

Raigarh

Salesman News Raigarh : युवक ने की एसपी से शिकायत, 25 हजार की डीडी देकर नौकरी में लगा था युवक

रायगढ़. शराब दुकान में काम करने वाले सेल्समैन को अधिकारियों ने प्रताडि़त कर नौकरी से निकला दिया। इसकी शिकायत पीडि़त युवक ने एसपी से की है।
इस संबंध में मिली जानकारी के अनुसार खरसिया थाना क्षेत्र के ग्राम रजघट्टा निवासी लालसिंह चौहान पिता ज्वाला प्रसाद चौहान (28) कोकड़ीतराई के शासकीय मदिरा दुकान में सेल्समेन के पद पर कार्यरत था। युवक ने आरोप लगाया है कि प्राइमन वर्कफोर्स प्राइवेट लिमिटेड भोपाल के अधिकारी रोहन बोहिदार ने एक नवंबर 2017 में नौकरी में रखने के लिए 25 हजार का पहले बैंक की डीडी ली। वहीं इसके बाद 40 हजार रुपए नगद लेकर उसे नौकरी पर रखा। करीब डेढ़ साल तक नौकरी करने के बाद अधिकारी उसे अधिक दर पर शराब बेचने का दबाव बनाने लगे। लालसिंह ने इसका विरोध किया तो अधिकारी रोहन बोहदार ने उसे नौकरी से निकला दिया। वहीं जब वह डीडी की राशि वापस मांगा तो वह भी नहीं दी जा रही है। इससे युवक मानसिक रूप से परेशान है।

Read : क्यों भागा था मजदूर, इधर उसे ढूंढने जंगलों की खाक छान रही थी पुलिस
कमाई का बनाया जरिया
पीडि़त युवक ने बताया कि संबंधित कंपनी ने बेरोजगार युवकों को ठगने का जरिया बनाया है। युवक का कहना था कि शराब बेचने के लिए नौकरी लगने पर पहले डीडी के रूप में रुपए लिया जाता है। वहीं कुछ माह काम लेने के बाद नौकरी से निकाल दिया जाता है। कारण पूछने पर फिर से नौकरी देने के नाम पर नगद रुपए की मांग की जाती है। इस पर किसी भी अधिकारी का नियंत्रण नहीं है।