स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

आंखों के सामने बाढ़ में बह गया मासूम दोस्त, देखते देखते हो गया गायब, अभी तक नहीं..

Bhupesh Tripathi

Publish: Aug 09, 2019 19:35 PM | Updated: Aug 09, 2019 19:35 PM

Raigarh

Flood: बाढ़ देखने गया था कुर नाला, बह गया आठ साल का मासूम, गांव में पसरा मातम

रायगढ़। बारिश का कहर (Flood) छत्तीसगढ़ में ऐसा है कि शासन ने अलर्ट जारी कर दिया है। प्रदेश के नक्सल प्रभावित बस्तर (Bastar Flood) में आम जन जीवन अस्त व्यस्त हो गया है। कई परिवार सड़क में आ गए है। वही रायगढ़ जिले से एक खबर आई है की चक्रधर नगर थाना क्षेत्र अंतर्गत बेहरापाली गांव में मातम का माहौल बना हुआ है।दरअसल गांव का एक आठ वर्षीय बालक नाला बह गया।जिसका अभी तक कोई सुराग नहीं मिल पाया है।

Read: रमन के तर्ज पर अब भूपेश भी करेंगे ये काम, 11 अगस्त से होगी शुरूआत

बाढ़ देखने के दौरान बह गया मासूम
मासूम अपने साथियों के साथ बाढ़ देखने गया था। इस दौरान उसका पैर फिसल गया और वह पुल से नीचे गिर कर पानी में बह गया। घटना की सूचना जब मासूम के परिजनों को हुई तो पूरा परिवार सदमे में है। इधर पुलिस और गोताखोर की टीम द्वारा घंटों मशक्कत के बाद भी बालक का कहीं कुछ पता नहीं चल पाया।ऐसे में पुलिस दूसरे दिन बालक को ढूंढने की बात कही रही है।

Read: नाबालिग एक साल से बना रही थी शारीरिक संबंध, अचानक बिगड़ी तबियत, जांच रिपोर्ट सामने आई तो...

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार बुधवार की रात हुए झमाझम बारिश के बाद नदी-नाले उफान पर हैं। कई लोग मौके पर बाढ़ देखने पहुंच रहे हैं तो कई मछली पकडऩे के लिए जा रहे हैं। इसी क्रम में बेहरापाली निवासी तोषराम साहू (8) 8 अगस्त की सुबह करीब 11 बजे अपने साथियों के साथ कुर नाला बाढ़ देखने गया था।

Read: वादा था रोजगार का लेकिन बांट रहे हैं बेरोजगारी, 106 अतिथि शिक्षक सड़क पर

इस दौरान वह नाला के ऊपर स्थित पुल के किनारे में खड़ा होकर बाढ़ को देख रहा था।तभी अचानक उसका पैर फिसल गया और वह पानी में जा गिरा। जिसके बाद वह पानी से ऊपर ही नहीं आया और बह कर कहीं चला गया। घटना के बाद तोषराम के साथी डर गए और गांव जाकर घटना की जानकारी परिजन व अन्य ग्रामीणों को दी।

Read More: बेरोजगारों के लिए LIC में निकली बंफर भर्ती, 20 अगस्त तक कर सकते हैं आवेदन

सूचना मिलते ही पीड़ित के परिजन और ग्रामीण मौके पर पहुंचे और बालक को ढूंढने का प्रयास करने लगे। इसी बीच घटना की सूचना चक्रधर नगर पुलिस को दी गई। इसके बाद पुलिस व गोताखोर की टीम मौके पर पहुंची और शाम सात बजे तक बच्चे को पानी में ढूंढा गया, लेकिन वह नहीं मिला। इस संबंध में मौके पर पहुंचे एएसआई डीएस डहरिया ने बताया कि पानी काफी ज्यादा है और बहाव भी तेज है। ऐसे में बच्चे को ढूंढने में काफी परेशानी हुई। शुक्रवार को फिर से बालक को ढूंढा जा रहा है।

Read More: पति नहीं था घर में, पुराने प्रेमी ने बनाया महिला टीचर का अश्लील वीडियो, डराकर किया दुष्कर्म

नहीं थम रहे हैं परिजन के आंसू
इस घटना से बालक का पूरा परिवार सदमे में है। वहीं मौके पर पहुंचे बालक के पिता का रो-रोकर बुरा हाल हो गया था। वह घंटों तक कुर नाला के पास ही बैठ कर रो रहा था। उसे ग्रामीणों और पुलिस ने ढांढस बंधाया, इसके बाद भी उसके आंसू थमने का नाम नहीं ले रहे थे।

Click & Read More Chhattisgarh flood News.