स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

दो दोस्तों ने मिलकर पहले पिलाई शराब और फंसने के डर से नाबालिग को बेदम पीटा

Vasudev Yadav

Publish: Jul 17, 2019 19:03 PM | Updated: Jul 17, 2019 19:03 PM

Raigarh

Raigarh crime : गंभीर रूप से घायल नाबालिग का रायपुर में चल रहा था इलाज, स्वस्थ्य होकर आया घर तो थाने में की घटना की रिपोर्ट

रायगढ़. घरघोड़ा थाना क्षेत्र अंतर्गत दो दोस्तों ने मिलकर पहले नाबालिग लड़के को शराब पिलाई। इसके बाद नाबालिग के घर वाले कहीं हम पर शक न करें सोच कर उसकी बेदम पिटाई कर दी। वहीं रास्ते में नाबालिग का हाथ-पैर पकड़ कर उसे स्कूल की बाउंड्री अंदर फेंक कर फरार हो गए। इस घटना में नाबालिग के सिर व शरीर के अन्य हिस्सों में काफी चोट आई थी। जिसका रायपुर में इलाज चल रहा था। पीडि़त नाबालिग को होश आने के बाद उसने घटना के बारे में अपने पिता को बताया। फिर इसकी रिपोर्ट थाने में की गई। जहां पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ धारा 294, 506, 323, 34 के तहत अपराध दर्ज कर मामले को विवेचना में लिया है।

Read More : प्रभावित कई गांव से राय लेने के बाद लेमरू हाथी रिजर्व पर सरकार लगाएगी अंतिम मुहर
पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार प्रार्थी मदन राठिया पिता माधोराम राठिया (40) ग्राम भालुमार रहने वाला है। इसका 16 वर्षीय नाबालिग बेटा कक्षा 10वीं में पढ़ाई कर रहा है। करीब दो माह पूर्व 14 मई की शाम नाबालिग को उसके दो दोस्त घर बुलाने आए और बाइक की सीट कवर लेने घरघोड़ा जाना है कह कर अपने साथ ले गए। इसे बाद नाबालिग देर रात तक घर नहीं आया तो उसके परिजन उसकी खोजबीन में जुट गए। तभी रात करीब 12 बजे मदन को उसके पड़ोसी ने बताया कि तुम्हारा बेटा तुम्हारे घर की परछी में खड़ा है और कांप रहा है तथा बातचीत नहीं कर पा रहा है। इसके बाद मदन व उसके घर के बाकी सदस्य घर से बाहर निकल कर देखे तो नाबालिग को काफी चोट लगी थी। जिसे उसके पिता घर लेकर आया और बिस्तर पर लेटाया तो वह उल्टी करने लगा। ऐसे में पीडि़त परिजन घबरा गए और तत्काल नाबालिग को घरघोड़ा अस्पताल ले कर गए, जहां से उसे रायगढ़ रेफर कर दिया गया। जहां दो निजी अस्पताल में कई दिन इलाज कराने व सिटी स्केन कराने के बाद ही नाबालिग के तबीयत में सुधार नहीं आया तो उसे रायपुर रेफर कर दिया गया। 15 दिन बाद नाबालिग को होश आया तो उसके अपने पिता को घटना के बारे में बताया। फिर इसकी रिपोर्ट थाने में की गई।

Read More : शराब के नशे में युवक किराए के मकान में घुसकर किराएदार को पीटा और कार में की तोड़फोड़

आरोपियों ने ऐसे दिया घटना को अंजाम
पुलिस ने बताया कि नाबालिग के दोनों दोस्त सीट कवर खरीदने के बाद घरघोड़ा शराब दुकान से शराब लिए और नाबालिग को जबरन पिलाए। जिससे नाबालिग चलने-फिरने लायक नहीं रहा। इसके बाद दोनों दोस्त नाबालिग को बाइक में बिठाकर भेड़ीमुड़ा तालाब के पास ले गए। जहां दोनों आपस में बात करने लगे कि इसे तो नशा हो गया हम बदनाम हो जाएंगे कह कर नाबालिग के साथ हाथ-मुक्का से मारपीट किए। इसके बाद उसे बाइक में बिठा कर गांव के शासकीय स्कूल के पास ले गए और दोनों नाबालिग के हाथ-पैर को पकड़ कर उसे स्कूल की बाउंड्री अंदर फेंक दिए और वहां से फरार हो गए। देर रात जब नाबालिग को होश आया तो वह जैसे-तैसे अपने घर पहुंचा था।


Chhattisgarh crime से जुड़ी इन खबरों को जरूर पढ़ें