स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

पति की मौत के बाद भी नवविवाहिता को करते रहे प्रताडि़त, एक दिन तंग आकर महिला ने उठाया ये कदम, फिर जो हुआ पढि़ए खबर...

Vasudev Yadav

Publish: Sep 19, 2019 18:12 PM | Updated: Sep 19, 2019 18:12 PM

Raigarh

Dowry harassment: दहेज प्रताडऩा के मामले में सास, दो जेठ व जेठानी के खिलाफ पुलिस ने मामला दर्ज किया है।

रायगढ़. चक्रधरनगर थाना क्षेत्र अंतर्गत पति की मौत के बाद ससुरालियों ने दहेज की मांग कर नवविवाहिता का जीना बेहाल कर दिया। आए दिन की प्रताडऩा से तंग पीडि़ता ने इसकी शिकायत थाने में की। जहां पुलिस ने महिला की सास, दो जेठ व जेठानी के खिलाफ धारा 498, 506, 34 के तहत अपराध दर्ज कर मामले को विवेचना में लिया है।

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार प्रार्थिया पूजा श्रीवास (23) सरजू बगीचा मसानगंज बिलासपुर की रहने वाली है। 14 जून 2018 को इसका विवाह दुर्गेश श्रीवास पिता स्व. रिपुसुदन श्रीवास निवासी बेलादुला के साथ रीति-रिवाज के साथ हुआ। शादी के बाद नवविवाहिता अपने ससुराल आई, जहां शादी के रिसेप्शन के दिन घर वालों के बीच काफी लड़ाई-झगड़ा हुआ। जोकि पुलिस के हस्तक्षेप के बाद ही शांत हुआ था। इसके बाद महिला का पति घर से दो दिन गायब हो गया था। वापस आने पर महिला के दोनों जेठ शैलेष श्रीवास, मुकेश श्रीवास, जेठानी पदमनि श्रीवास व सास प्रमीला श्रीवास दुर्गेश का हाथ पैर बांधकर मारपीट किए थे। साथ ही साथ सभी सदस्य महिला को दहेज में बाइक, वाशिंग मशीन व 50 हजार रुपए नकदी की मांग कर प्रताडि़त करने लगे।
Read More : हड्डी रोग से पीडि़त मरीजों को मिल सकती है राहत, पर नेत्र विभाग में अब भी अंधेरा, नहीं हो रहा मोतियाबिंद का ऑपरेशन, ये है वजह...

कुछ दिन बाद महिला को पता चला कि उसके पति को पीलिया जैसी गंभीर बिमारी एवं उसका कीडनी, लीवर खराब है, जिस वजह से वह हमेशा बीमार रहता था। शादी के एक हफ्ते बाद ही उक्त बीमारी के कारण दुर्गेश को अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा। इस पर महिला की सास उसे मनहूस कहकर प्रताडि़त करने लगी। वहीं उसके पिता को फोन कर उसे ले जाने की बात कहने लगी। वहीं दहेज की मांग पूरी होने पर ही घर भेजने की धमकी दी।

इसके बाद महिला अपने मायके चली गई और कुछ दिन बाद घर लौटी तो उसके ससुराल वाले उसे फिर से प्रताडि़त करने लगे। वहीं उसके पति को भी सभी सदस्य मारपीट व प्रताडि़त करने लगे। पीडि़ता ने अपनी रिपोर्ट में बताया कि एक दिन मारपीट के दौरान उसकी सास ने पीडि़ता पति दुर्गेश के सिर पर बोतल मारकर उसका सिर फोड़ दिया। इससे दुर्गेश गंभीर रूप से घायल हो गया। पीडि़ता इलाज के लिए लेकर गई तो उसके जेठ-जेठानी एवं सास उसे धमकी दिए कि पुलिस में रिपोर्ट दर्ज कराओगी तो अंजाम भुगतने के लिए तैयार रहना। ऐसे में पीडि़ता डर गई और घटना की रिपोर्ट थाने में नहीं की। इसके बाद से महिला के ससुराल वाले दोनों पति-पत्नी को प्रताडि़त करने लगे। इससे दुर्गेश ज्यादा शराब पीने लगा। इसके कारण उसे अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा और 12 दिसंबर 2018 को दुर्गेश की मौत हो गई।

Read More: ट्रक चालक ने बाइक सवार को रौंदा, एक की मौत, एक की हालत गंभीर

बढ़ी प्रताडऩा तो पहुंची थाने
पति के मौत के बाद भी पीडि़ता अपने ससुराल वालों की प्रताडऩा सह रही थी, लेकिन दहेज की मांग को लेकर ससुरालियों की प्रताडऩा दिन-ब-दिन बढ़ती जा रही थी। इसी बीच महिला के जेठ जेठानी एवं सास उसे दहेज की मांग कर जान से मारने की धमकी देते हुए मारपीट किए। इससे तंग आकर उसने घटना की रिपोर्ट थाने में की। जहां पुलिस ने अपराध दर्ज कर मामले को विवेचना में लिया है।