स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

उड़ीसा से कोरेक्स सिरप की खरीदी कर छत्तीसगढ़ में खपाने का प्रयास, पुलिस ने आरोपी को किया गिरफ्त्तार

Vasudev Yadav

Publish: Sep 09, 2019 11:54 AM | Updated: Sep 09, 2019 11:54 AM

Raigarh

Smuggling Corex syrup : मुखबिर की सूचना पर बरमकेला पुलिस ने घेराबंदी कर बस स्टैंड के पास आरोपी को पकड़ा
पुलिस ने आरोपी से 47 नग कोरेक्स सिरप जब्त कर उसे रिमांड में भेजा जेल

रायगढ़. मुखबिर की सूचना पर बरमकेला पुलिस ने ओडिशा से प्रतिबंधित दवा (कोरेक्स सिरप) की तस्करी कर आ रहे एक आरोपी को घेराबंदी कर बरमकेला बस स्टैंड के पास गिरफ्तार किया है। पुलिस ने आरोपी से 47 नग सिरप व बाइक जब्त कर उसके खिलाफ अपराध दर्ज कर लिया है। वहीं आरोपी को रिमांड में जेल भेज दिया है।
पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार 8 सिंतबर की शाम पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली कि एक युवक ओडिशा से कोरेक्स सिरप लेकर बाइक में बरमकेला की ओर जा रहा है। सूचना मिलते ही एएसआई विजय गोपाल, आरक्षक भवानी शंकर धांगर, नंद कुमार चौहान व जगेश्वर मरावी की टीम बरमकेला बस स्टैंड के पास पहुंची और नाकाबंदी कर आरोपी के आने का इंतजार करने लगी। इसी बीच पुलिस को मुखबिर के बताए हुलिया अनुसार एक युवक आता दिखा। जिसे पुलिस ने रोका तो वह हड़बड़ा गया और भागने की कोशिश करने लगा। लेकिन पुलिस की टीम ने उसे धर दबोचा। पुलिस की पूछताछ में आरोपी ने अपना नाम भवानी शंकर डनसेना पिता भोलाराम डनसेना (26) निवासी बोंदा थाना सरिया बताया। पुलिस ने आरोपी के पास रखे थैले की जांच की तो उसमें 47 नग कोरेक्स सिरप मिला। ऐसे में पुलिस ने आरोपी के खिलाफ अपराध दर्ज कर उसके पास रखे सिरप व बाइक को जब्त कर लिया है।

बॉर्डर में होता था डील

पुलिस ने जब आरोपी से ओडिशा के कहां से प्रतिबंधित दवा लाने के संबंध में पूछा तो उसने बताया कि वह ओडिशा नहीं जाता था। सिर्फ बार्डर में पहुंचता था और ओडिशा से एक व्यक्ति आकर उसे सिरप देता था। इसके एवज में भवानी उसे रुपए देता था। पुलिस की पूछताछ में आरोपी ने बताया कि वह उक्त व्यक्ति का नाम नहीं जानता, लेकिन लंबे समय से उससे माल ले रहा था।

सरिया पुलिस के डर से चुना बरमकेला मार्ग
पुलिस ने बताया कि आरोपी सरिया क्षेत्र का रहने वाला है, लेकिन वह ओडिशा से सिरप लाकर बरमकेला होते हुए सरिया जाता था। वहीं अपने क्षेत्र के युवकों को माल बेचता था। ज्ञात हो कि सरिया पुलिस के मुखबिर तंत्र इतने मजबूत हैं कि वहां से गांजा, कोरेक्स, शराब व अन्य मादक पदार्थों की तस्करी करने वालों का पकडऩा तय है। ऐसे में भवानी को लगा कि बरमकेला तरफ उतना चेकिंग नहीं होता, इसलिए वह कुछ माह से उसी रास्ते से प्रतिबंधित दवा लाता था। लेकिन एसपी के निर्देश के बाद बरमकेला पुलिस भी सक्रिय हो गई है और लगातार जुआ, सट्टा, शराब व अवैध कारोबारों पर शिकंजा कस रही है। इसी क्रम में भवानी शंकर भी पुलिस के हत्थे चढ़ गया।