स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

खुला मौसम तो मिली राहत, लगातार बारिश से नुकसान

Rakesh kumar Verma

Publish: Aug 13, 2019 11:08 AM | Updated: Aug 13, 2019 11:08 AM

Pratapgarh

खुला मौसम तो मिली राहत, लगातार बारिश से नुकसान

प्रतापगढ़. जिले में पिछले कई दिनों से लगातार हो रही बारिश सोमवार को थम गई। इससे लोगों को राहत मिली है।गत दिनों हुई बारिश से जलाशय लबालब हो गए है। लेकिन लगातार बारिश के कारण नुकसान भी हुआ है।फसलों में नुकसान होने लगा था।कई इलाकों में खेतों में पानी भरा रहने से फसलें नष्ट होने की कगार पर है। बरसात लगातार होने से खेतों में पानी भर जाने से फसल नष्ट होने लगी है। वहीं इल्लियों का प्रकोप भी किसानों के लिए नासूर बन गया है। ऐसे मौसम में दवाई का छिडक़ाव भी बेअसर होता नजर आ रहा है।
गौतमेश्वर तालाब भी लबालब: गत दिनों से हो रही बारिश के बाद सभी जलाशय लबालब हो गए है। वहीं गौतमेश्वर का तालाब भी पूरा गया है। यहां तालाब काफी चौड़ाई में है। ऐसे में तालाब लबालब होने से पास के कुओं का जल स्तर भी बढ़ेगा। जिससे गर्मी में समस्या कम रहेगी।
अरनोद में फसलों में नुकसान: लगातार बरसात के चलते अरनोद शेत्र के सभी नदी नाले उफान पर है। अरनोद के दोनों बड़े बांध हमचखेड़ी व चाचाखेड़ी बांध ओवर फ्लो हो चुके है। दूसरी ओर लगातार बरसात के चलते किसानो को अपनी फसल की चिंता सताने लगी है। ज्यादा बरसात होने से फसलें खराब होने की कगार पर है।
मोवाई. निकटवर्ती मोहेडा ग्राम पंचायत में डोराना गांव में नई आबादी बरखेडी के ग्रामीणों को एक आम रास्ता जो डोराना वाले को ग्रामीण को कीचड़ से निकलना पड़ता है।ग्रामीणों ने बताया कि इस बारे में ग्राम पंचायत को कई बार अवगत कराया गया।इसके बाद भी कोई सुनवाई नहीं की जा रही है। दूसरी ओर यहां पर हैंडपंप भी लगा हुआ है। जिसमें पास का गंदा पानी उसमें उतरता है। गंदा पानी भरा रहने से हैंडपंप में अंदर चला जाता है।
धरियावद क्षेत्र में बरसात का दौर थमने के साथ सोमवार को आसमान में दिनभर बादलो की आवाजाही के बीच मौसम साफ रहा। दिनभर धूप खिली रही। इधर बरसात रूकने के बावजूद पहाडी इलाको में अच्छी बरसात से नदियों एवं जलाशयों में पानी की आवक जारी रही सुबह करमोही नदी में पानी के जलस्तर में बढोत्तरी दिखाई दी। इससे किसान भी काम में जुट गए है।
अरनोद में कच्ची दीवार ढही
जिले के अरनोद कस्बे के शितला माता मंदिर के पास मकान की एक दीवार ढह गई। मकान मालिक चेनसिंह ने बताया कि मकान के पीछे एक कमरा बना हुआ था।जो लगातार बरसात से दीवार गिर गई।चेनसिंह एक गरीब परीवार से है जो मजदूरी कर अपने परिवार का गुजारा करता हैं। ग्रामीणों ने आर्थिक मदद के लिए उपखण्ड कार्यलय व ग्राम पंचायत से मौका मुआयना कर मुवावजे की मांग की है।
जिले में बारिश की स्थिति
मुख्यालय बारिश
प्रतापगढ़ 1479
अरनोद 964
छोटीसादड़ी 514
धरियावद 612
पीपलखूंट 600
आंकड़े एमएम में