स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

बाजार में नहीं बिकेगा खुला खाद्य तेल और घी

Devi Shankar Suthar

Publish: Aug 14, 2019 11:54 AM | Updated: Aug 14, 2019 11:54 AM

Pratapgarh


बाजार में नहीं बिकेगा खुला खाद्य तेल और घी
बाजार में खुला तेल और घी बेचने पर कार्रवाई
खुले में बिकने पर उपभोक्ता कर सकते है शिकायत


प्रतापगढ़
खुले खाद्य तेल और घी में मिलावट की अधिक शिकायतों को देखते हुए चिकित्सा विभाग ने इन खाद्य सामग्री पर बिक्री से रोक लगा दी है। ऐसे में कहीं भी इस प्रकार से खुले खाद्य तेल और घी बिकने पर कोई भी उपभोक्ता चिकित्सा विभाग को शिकायत कर सकते है। जिस पर कार्रवाई की जाएगी।
गौरतलब है कि चिकित्सा विभाग की ओर से खुले खाद्य तेल और घी में मिलावट की आशंका अधिक रहती है। इसे देखते हुए गत वर्ष से ही खुले में बिकने वाले खाद्य तेल और घी की बिक्री पर पाबंदी लगाई हुई है। ऐसे में विभाग की ओर से आम लोगों इस प्रकार से खुले में बिक्री होने की जानकारी मिलने पर चिकित्सा विभाग के अधिकारियों को देने की भी अपील की है।
यह है विभाग के आंकड़े
विभाग की ओर से गत दो वर्ष में खाद्य सामग्री के नमूने लिए गए। इनमें वर्ष २०१८ में कुल ८२ नमूने लिए गए है। इनमें १३ नमूने अमानक पाए गए है। जिसमें खुला घी, दूध, मावा और मसाले शामिल थे। मसाले में १० मिथ्या छाप, दूध में पानी की मात्रा अधिक, मावा में फेट कम पाया गया।
इसी प्रकार इस वर्ष में अब तक कुल ८४ नमूने लिए गए है। जिसमें से दो आइस केंडी के नमूने अनफिट पाए गए है। जो मानव स्वास्थ्य के लिए घातक बताए गए है। इसी प्रकार चार अमानक, ८ मिथ्यछाप के पाए गए है। जिसमें खाद्य पदार्थ अधिनियम के तहत लेवल में कमी पाई गई है। खाद्य सुरक्षा अधिकारी दीपककुमार सिंधी ने बताया कि अभी रक्षा बंधन को देखते हुए विभाग की ओर से अभियान चलाया गया है। जिस पर जिले में नमूने लिए जा रहे है।

कर रहे है कार्रवाई
खाद्य पदार्थों को लेकर विभाग सावचेत है। खुले खाद्य तेल और घी की बिक्री पर रोक लगा रखी है। इस प्रकार से खुले में तेल और घी की बिक्री करने पर कार्रवाई का प्रावधान है। रक्षा बंधन के त्योहार को देखते हुए अभियान चलाया हुआ है। जिसमें मिलावटी मिठाइयों पर विशेष नजर रखी जा रही है। इस प्रकार की कोई मिलावटी मिठाई बेचने पर नमूना लेकर कार्रवाई की जाएगी।
डॉ. वीके जैन
मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी, प्रतापगढ़


मावा व मिठाइयों के नमूने लिए
प्रतापगढ़
चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग द्वारा रक्षाबन्धन के त्यौहार को देखते हुए अभियान चलाया गया है। इसके तहत हाई स्कूल रोड पर दुकान से कलाकन्द (मावा मिठाई) का नमूना लिया। पुलिस चौकी के पास दुकान से बर्फी का नमूना लिया, महल दरवाजे के पास दुकान से नमूना लिया गया। नमूनों को खाद्य प्रयोगशाला उदयपुर भिजवाया जाएगा। शहर में सभी खाद्य दुकानों की जांच की गई। जिन्हें साफ-सफाई रखने, खाद्य पदार्थ विक्रय अनुज्ञा पत्र प्रदर्शित करने तथा फुड लाइसेंस डिस्पले बोर्ड बनवाने एवं उन्हें प्रदर्शित करने के निर्देश दिए गए। खाद्य सुरक्षा अधिकारी दीपक कुमार सिंधी एवं गोपाल कुमावत शामिल थे।
अभियान के तहत अब तक कुल 12 खाद्य पदार्थो के नमूने लिए गए हैं। जिन्हें प्रयोगशाला, उदयपुर भिजवा दिया गया हैं।