स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

दिल्‍ली: राजकीय सम्मान के साथ पूर्व CM शीला दीक्षित को दी गई अंतिम विदाई

Dhirendra Kumar Mishra

Publish: Jul 21, 2019 08:48 AM | Updated: Jul 21, 2019 22:26 PM

Political

  • Sheila Dikshit को निगमबोध घाट पर हुआ अंतिम संस्कार
  • 1998 से 2013 तक दिल्‍ली की मुख्‍यमंत्री रहीं
  • मृदुभाषी और सौम्‍य शीला ने जीत लिया था दिल्‍ली वालों का दिल

नई दिल्‍ली। दिल्‍ली की पूर्व मुख्‍यमंत्री शीला दीक्षित का राजकीय सम्मान के साथ रविवार को अंतिम संस्कार किया गया। भारी बारिश के बीच निगमबोध घाट पर लोगों ने नम आंखों से उन्हें अंतिम विदाई दी। सीएनजी शवदाह गृह में शीला दीक्षित का अंतिम संस्कार किया गया।

सोनिया गांधी समेत कई नेता वरिष्ठ नेता मौजूद

अंतिम संस्कार के दौरान केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह, यूपीए चेयरपर्सन सोनिया गांधी, प्रियंका गांधी, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया समेत कांग्रेस के कई वरिष्ठ नेता मौजूद रहे। शनिवार को पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित को दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया था।

ये भी पढ़ें: शीला दीक्षित को बड़ी बहन मानती थीं सोनिया गांधी, कहा- भुला पाना मुश्किल

इससे पहले पार्थिव शरीर उनके निजामुद्दीन स्थित आवास से कांग्रेस मुख्यालय पर अंतिम दर्शन के लिए रखा गया था। उन्‍हें श्रद्धांजलि देने वालों का तांता लगा रहा। रविवार को पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्‍वराज और जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने दिवंगत शीला दीक्षित को श्रद्धांजलि अर्पित की।

आज शीला दीक्षित का राजकीय सम्‍मान के साथ अंतिम संस्‍कार ( shiela dixit funeral ) हो गया।

- कपिल सिब्बल और सचिन पायलट कांग्रेस मुख्यालय पहुंचे

- सीएम अरविंद केजरीवाल शीला दीक्षित के अंतिम संस्कार में शामिल हुए
- राजीव शुक्ला बोले- शीला दीक्षित को दिल्ली की जनता कभी नहीं भूलेगी
- भाजपा के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी ने शीला दीक्षित को दी श्रद्धांजलि

ये भी पढ़ें: बड़ा सवालः शीला दीक्षित के निधन के बाद कौन होगा विकल्प, कांग्रेस के सामने संकट

 

 

shiela1

12.15 बजे से 1.30 बजे अंतिम दर्शन

रविवार को उनका अंतिम संस्कार दोपहर 2.30 बजे राजधानी के निगमबोध घाट पर किया जाएगा। इससे पहले उनके पार्थिव शरीर को बहन के घर से 11.30 बजे कांग्रेस दफ्तर ले जाया जाएगा।

यहीं पर कांग्रेस नेता और अन्य लोग शीला दीक्षित को श्रद्धांजलि देंगे। यहां 12.15 बजे से 1.30 बजे तक आम लोग शीला दीक्षित का अंतिम दर्शन ( people will paytribute) करेंगे।

इसके बाद वहां से पार्थिव शरीर को निगमबोध घाट ले जाया जाएगा, जहां 2.30 बजे दिल्ली की पूर्व सीएम शीला दीक्षित का अंतिम संस्कार ( Former Cm shiela-dixit cremation ) होगा।

 

Shiela2

दिल का दौरा पड़ने से हुआ निधन

बता दें कि दिल्‍ली की पूर्व मुख्‍यमंत्री शीला दीक्षित ( Delhi Former Chief Minister Shiela Dixit ) पिछले कुछ दिनों से बीमार चल रही थीं। उन्हें एस्कॉर्ट हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था। शनिवार को 3 बजकर 5 मिनट पर उन्हें दिल का दौरा पड़ा और 3.55 बजे उनका निधन हो गया।

शीला दीक्षित के निधन से शोक की लहर, रविवार को होगा अंतिम संस्कार

उनके निधन की सूचना मिलते ही कांग्रेस समेत पूरे देश में शोक की लहर फैल गई। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, यूपीए अध्‍यक्ष सोनिया गांधी, प्रियंका गांधी, पूर्व पीएम मनमोहन सिंह समेत कई बड़े नेताओं ने शोक जताते हुए श्रद्धांजलि दी।

Shiela3

दिल्‍ली वालों का दिल जीतने में कामयाब रहीं

कांग्रेस की वरिष्‍ठ नेता और पूर्व सीएम शीला दीक्षित ( Former Cm Shiela Dixit ) 1998 में उत्‍तर प्रदेश की राजनीति से दिल्‍ली आईं थी। दिल्‍ली में उन्‍होंने अपनी कार्यशैली के बल पर नई पहचान बनाई और छा गईं। शीला दीक्षित ने दिल्‍ली का दिल जीत लिया था।

 

 

Shiela4

सबसे लंबे समय तक रहीं दिल्‍ली की सीएम

शीला दीक्षित ( Sheila Dikshit funeral ) सबसे लंबे समय तक यानी तीन बार दिल्ली की मुख्यमंत्री रहीं। 1998 से लेकर 2013 तक उन्होंने दिल्ली का शासन संभाला। उनके सम्मान में दिल्ली सरकार ने दो दिन के राजकीय शोक की घोषणा की है।

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने उनके निधन पर शोक जताते हुए कहा कि दीक्षित का शहर के विकास में योगदान को हमेशा याद किया जाएगा। उनके आकस्मिक निधन के बाद दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमिटी के कार्यालय पर राष्ट्रीय ध्वज आधा झुका दिया गया है।

निधन के बाद अपने पीछे इतने करोड़ की संपत्ति छोड़ गईं शीला दीक्षित, 15 साल तक दिल्ली पर किया था राज