स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

RJD को सबसे बड़ा झटका, वरिष्ठ नेता शिवानंद तिवारी ने राजनीति को कहा अलविदा

Kaushlendra Pathak

Publish: Oct 23, 2019 11:55 AM | Updated: Oct 23, 2019 11:55 AM

Political

  • विधानसभा चुनाव से पहले RJD के लिए बुरी खबर
  • राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शिवावंद तिवारी ने राजनीति छोड़ने का किया ऐलान

नई दिल्ली। अगले साल बिहार में विधानसभा चुनाव होने हैं। विधानसभा चुनाव को लेकर अभी से प्रदेश की राजनीति गरमाई हुई है। कई नेता अब तक पार्टी की अदला-बदली कर चुके हैं। इसी कड़ी में राष्ट्रीय जनता दल यानी RJD को बड़ा झटका लगा है। पार्टी के वरिष्ठ नेता और राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शिवानंद तिवारी ने राजनीति को अलविदा कहने का फैसला किया है।

जानकारी के मुताबिक, शिवानंद तिवारी ने पार्टी से संबंधित कार्यों से छुट्टी लेने की बात कही है। वे राजनीतिक कार्यों को लेकर अब खुद को थका महसूस कर रहे हैं। चर्चा यहां तक है कि शिवानंद तिवारी ने पार्टी के राष्‍ट्रीय उपाध्‍यक्ष के पद से इस्‍तीफा दे दिया है। हालांकि उन्‍होंने इस्‍तीफा देने की बात से इनकार किया है। वहीं, इस मामले में राजद की ओर से अभी तक कोई बयान नहीं दिया गया है।

दरअसल, शिवानंद तिवारी का कहना है कि मैं अब थकान महसूस कर रहा हूं। शरीर से ज्यादा मन की थकान है। संस्मरण लिखना चाहता था, लेकिन वह भी नहीं कर पा रहा हूं। इसलिए जो कर रहा हूं, उससे छुट्टी पाना चाहता हूं। उन्‍होंने अपने बयान में आगे आगे लिखा है कि संस्मरण लिखने का प्रयास करूंगा। लिख ही दूंगा, ऐसा भरोसा भी नहीं है, लेकिन प्रयास करूंगा। उनहोंने आगे बड़ा निर्णय की घोषणा करते हुए उन्‍होंने कहा कि राजद की ओर से जिस भूमिका का निर्वहन अब तक मैं कर रहा था, उससे छुट्टी ले रहा हूं।

शिवानंद तिवारी के इस फैसले आरजेडी को बड़ा झटका लग सकता है। क्योंकि, शिवानंद तिवारी लालू प्रसाद यादव के बेहद करीबी माने जाते हैं। अब देखना यह है कि शिवानंद तिवारी के इस फैसले पर आरजेडी की ओर से क्या निर्णय लिया जाता है।