स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

शिवसेना के संजय राउत का बड़ा बयान- 144 सीटें नहीं मिलीं तो बीजेपी के साथ गठबंधन भी नहीं

Dhirendra Kumar Mishra

Publish: Sep 19, 2019 11:29 AM | Updated: Sep 19, 2019 12:22 PM

Political

  • सीट शेयरिंग को लेकर शिवसेना के तेवर सख्‍त
  • अब 50:50 के फार्मूले के लिए भी शिवसेना तैयार नहीं
  • बीजेपी शिवसेना को देना चाहती है 120 सीटें

नई दिल्‍ली। महाराष्‍ट्र विधानसभा चुनाव में सीट शेयरिंग को लेकर बीजेपी और शिवसेना के बीच लोकसभा चुनाव की तरह इस बार भी तलवारें खींच गई हैं। सीटों के बंटवारे को लेकर सहमति नहीं बनने के बाद शिवसेना (Shiv Sena) ने बड़ा ऐलान किया है। शिवसेना के वरिष्‍ठ नेता संजय राउत ने कहा कि BJP के साथ 50:50 फॉर्मूले पर ही चुनावी गठजोड़ किया जाएगा।

CM फडणवीस की पत्नी अमृता ने पीएम मोदी को बताया 'फादर ऑफ कंट्री', सोशल मीडिया पर हुईं ट्रोल

50-50 पर भी चुनावी गठबंधन मुश्किल

उन्‍होंने इस बात पर भी जोर दिया है कि अब मामला 50-50 का भी नहीं रहा। लेकिन इस मुद्दे पर पिछले दो दिनों के दौरान बीजेपी-शिवसेना के बीच संबंध तल्‍ख हो गए हैं। शिवसेना ने स्‍पष्‍ट कर दिया है कि उनकी पार्टी बराबरी की स्थिति में ही बीजेपी के साथ मिलकर चुनाव लड़ेगी। उन्‍होंने कहा कि बराबरी पर ही गठबंधन किया जाएगा।

लेकिन उन्‍होंने इस बात का भी जिक्र किया है कि सीट शेयरिंग फार्मूले के तहत 144 सीटें नहीं मिलेंगी तो बीजेपी के साथ विधानसभा चुनावों में गठजोड़ संभव नहीं हो पाएगा।

Video: सीएम देवेंद्र फड़णवीस ने विकास के नाम पर मांगा वोट

18 सीटें सहयोगियों के लिए छोड़ने को शिवसेना तैयार

बता दें कि महाराष्‍ट्र में विधानसभा की कुल 288 सीटें हैं। शिवसेना पहले 135-135 सीटों पर चुनाव लड़ने के लिए तैयार थी। लेकिन भाजपा के रुख को देखते हुए शिवसेना ने भी अपना स्‍टैंड बदल लिया है। शिवसेना 18 सीटें अन्‍य सहयोगी पार्टियों के लिए छोड़ने को तैयार हैं।