स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

जाधवपुर यूनिवर्सिटी: छात्रों ने बाबुुुल सुप्रियो को बनाया बंधक, राज्‍यपाल ने दिए जांच के आदेश

Dhirendra Kumar Mishra

Publish: Sep 20, 2019 12:00 PM | Updated: Sep 20, 2019 12:32 PM

Political

  • टीएमसी-वामपंथी छात्रों ने की केंद्रीय मंत्री से धक्‍कामुक्‍की
  • सुप्रियो को बाहर निकालने के लिए राज्‍यपाल को करना पड़ा हस्‍तक्षेप
  • एबीवीपी के कार्यक्रम में छात्रों को संबोधित करने पहुंचे थे केंद्रीय मंत्री

नई दिल्‍ली। मोदी सरकार में मंत्री बाबुल सुप्रियो ( Union Minister Babul Supriyo) का जाधवपुर यूनिवर्सिटी पहुंचने के बाद टीएमसी-वाम छात्रों ने जमकर विरोध किया। प्रदर्शनकारी छात्रों ने कछ घंटों के लिए तो बाबुल सुप्रीयो को बंधक बना लिया। छात्रों ने कैंपस में बाबुल सुप्रीयो को घेर लिया और उनके साथ धक्‍कामुक्‍की की।

केंद्रीय मंत्री को छात्रों ने दिखाए काले झंडे

वामपंथी झुकाव वाले संगठन, आर्ट फैकल्टी स्टूडेंट्स यूनियन (AFSU) और स्टूडेंट फेडरेशन ऑफ इंडिया (SFI) के छात्रों ने बाबुल सुप्रियो वापस जाओ के नारे लगाते हुए करीब डेढ़ घंटे तक कैंपस में प्रवेश करने से रोके रखा। शाम 5 बजे परिसर से बाहर निकलते समय भी सुप्रियो को विरोध प्रदर्शन का सामना करना पड़ा। केंद्रीय मंत्री को प्रदर्शनकारी ने काले झंडे भी दिखाए। छात्रों ने सुप्रियो के खिलाफ वापस जाओ के नारे भी लगाए।

ममता ने राज्‍यपाल को यूनिवर्सिटी न जाने की दी थी सलाह

नौबत यहां तक पहुंच गई कि कोलकाता के जादवपुर यूनिवर्सिटी में राज्‍यपाल जगदीप धनखड़ को पहुंचकर हस्‍तक्षेप करना पड़ा। हालांकि मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी ने राज्‍यपाल जगदीप धनखड़ को यूनिवर्सिटी नहीं जाने का सुझाव दिया था। ममता का कहना था कि इससे मामला और बिगड़ सकता है।

babul_supriyo23.jpg

राज्‍यपाल को करना पड़ा हस्‍तक्षेप

मौके पर पहुंचे राज्यपाल जब बाबुल सुप्रियो को साथ निकलने की कोशिश करने लगे तो उन्हें छात्रों के विरोध का सामना करना पड़ा। काफी देर बाद राज्यपाल किसी तरह बाबुल सुप्रियो को अपनी कार में लेकर यूनिवर्सिटी परिसर से रवाना हुए।

राज्यपाल ने दिए जांच के आदेश

पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने कहा कि जाधवपुर यूनिवर्सिटी में छात्रों के एक वर्ग द्वारा केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो का घेराव करना बहुत गंभीर मामला है। उन्होंने राज्य के मुख्य सचिव को तत्काल कार्रवाई करने का निर्देश दिया है। इस मामले की जांचकर दोषी छात्रों के साथ यूनिवर्सिटी परिसर में स्थिति को नियंत्रण में लाने के लिए तत्काल कदम उठाने के निर्देश दिए हैं। राज्यपाल ने कहा कि यदि स्थिति सामान्य नहीं बनी तो वह खुद यूनिवर्सिटी का दौरा करेंगे।

बाबुल सुप्रियो बोले- मेरे बाल खींचे गए

केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो ने कहा कि मैं जाधवपुर युनिवर्सिटी राजनीति करने नहीं आया हूं। यूनिवर्सिटी के कुछ छात्रों के व्यवहार से दुखी हूं। जिस तरह उन्होंने मेरा घेराव किया वो अफसोस की बात है। उन्होंने आरोप लगाया कि छात्रों ने मेरे बाल खींचे और मुझे धक्का दिया।

बता दें कि बीजेपी सांसद अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद द्वारा आयोजित एक सेमिनार को संबोधित करने के लिए यूनिवर्सिटी पहुंचे थे। विश्वविद्यालय के कुलपति सुरंजन दास ने प्रदर्शनकारी छात्रों से कारण जानने की कोशिश की, लेकिन उन्होंने यूनिवर्सिटी के द्वार से हटने से इनकार कर दिया।