स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

भाजपा नेता दिलीप घोष का बड़ा बयान— राष्ट्र विरोधियों के खिलाफ पार्टी के कार्यकर्ता करेंगे सर्जिकल स्ट्राइक

Dhirendra Kumar Mishra

Publish: Sep 20, 2019 23:53 PM | Updated: Sep 21, 2019 18:11 PM

Political

  • ममता सरकार पर एक्शन न लेने का आरोप
  • जेयू कैंपस बना राष्ट्र विरोधी छात्रों का अड्डा
  • बाबुल सुप्रियो पर हमले के बाद से बीजेपी नाराज

नई दिल्ली। केद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो के साथ गुरुवार को वामपंथी छात्रों की घक्कामुक्की के बाद से कोलकाता स्थित जाधवपुर यूनिवर्सिटी कैंपस जंग का नया अखाड़ा बन गया है। इस घटना के बाद से एक बार फिर पश्चिम बंगाल में बीजेपी और टीएमसी समर्थक सड़कों पर आमने-सामने आ गए। शुक्रवार को दिन भर इस बात को लेकर तनातनी की नौबत बनीं रही।

शुक्रवार को इस मामले में पश्चिम बंगाल बीजेपी अध्यक्ष दिलीप घोष ने ममता सरकार पर हमला बोल दिया। दिलीप घोष ने ममता बनर्जी सरकार पर केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो पर हमले के आरोपी छात्रों के खिलाफ एक्शन न लेने का आरोप लगाया। उन्होंने चेतावनी भरे लहजे में कहा है कि जेयू कैंपस में राष्ट्र विरोधियों के अड्डे पर हमारे कैडर के कार्यकर्ता सर्जिकल स्ट्राइक करेंगे।

babul_supriyo.png

केंद्रीय मंत्री पर हमले के बाद से बीजेपी लाल
दरअसल, जादवपुर यूनिवर्सिटी (जेयू) में वामपंथी छात्र संगठनों द्वारा केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो पर किए गए हमले के बाद से बीजेपी कार्यकर्ताओं में भारी आक्रोश है। बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि जेयू का कैंपस राष्ट्र विरोधियों का अड्डा बन गया है। इन छात्रों को वामपंथी दलों और ममता सरकार का समर्थन हासिल है। उनके कैडर इस अड्डे को तहस-नहस करने के लिए बालाकोट की तर्ज पर सर्जिकल स्ट्राइक करेंगे।

उन्होंने कहा कि जिस तरह हमारे सुरक्षा बलों ने पाकिस्तान में आंतकी अड्डों को तबाह किया था, हमारा कैडर भी उसी तरह की सर्जिकल स्ट्राइक कर जेयू कैंपस में इन राष्ट्रविरोधी अड्डों को तहस-नहस करेंगे।

बाबुल पर हमले के पीछे हत्या की साजिश

दिलीप घोष ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में ममता सरकार पर आरोप लगाया कि वह जादवपुर यूनिवर्सिटी में इतनी बड़ी घटना होने के बावजूद हाथ पर हाथ धरे इसलिए बैठी रही कि उन्हें कैंपस में बाबुल सुप्रीयो की हत्या का इंतजार था। उन्होंने कहा कि केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह को इस मामले की पूरी जानकारी देंगे। उन्होंने कहा कि जादवपुर यूनिवर्सिटी कैंपस में इस तरह की घटना पहली बार नहीं हुई है।

बता दें कि गुरुवार को वामपंथी और टीएमसी छात्र संगठनों के नेताओं और कार्यकर्ताओं ने केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो के कपड़े फाड़ डाले और उनके बाल खींचे थे। बाद में राज्यपाल जगदीप धनकड़ जेयू पहुंचकर मंत्री को अपनी कार में ले गए थे। इस दौरान राज्यपाल के कार का भी छात्रों ने घेराव किया था।