स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

चहेतों पर मेहरबान हुआ महकमा तो रोडवेज चालकों ने जमकर काटा हंगामा

Amit Sharma

Publish: Aug 14, 2019 14:29 PM | Updated: Aug 14, 2019 14:29 PM

Pilibhit

मनमर्जी का विरोध करते हुए आज पीलीभीत रोडवेज के बस संचालकों ने रोडवेज पर जमकर हंगामा काटा, लगभग 3 घंटे तक बसों का संचालन ठप रहा।

पीलीभीत। पीलीभीत के रोडवेज डिपो पर चालकों ने जमकर हंगामा काटा। चालकों का आरोप है कि डिपो के अधिकारी अपनी मनमर्जी से फरमान लागू करते हैं। कभी लंबे रूट पर 2 ड्राइवर भेजते हैं तो कभी एक। मनमर्जी का विरोध करते हुए आज पीलीभीत रोडवेज के बस संचालकों ने रोडवेज पर जमकर हंगामा काटा, लगभग 3 घंटे तक बसों का संचालन ठप रहा। मामले की सूचना पाकर एआरएम मौके पर पहुंचे और ड्राइवर व कंडक्टर को समझाने का प्रयास करते नजर आए।

यह भी पढ़ें- काश, हर मां दिखा पाती गीता जैसा दम, न बहकते बेटों के कदम

यह भी पढ़ें- लोकसभा चुनाव में करारी हार के बाद पार्टी में मची भगदड़ रोकने के लिए अखिलेश ने लिया अब तक का बड़ा एक्शन

3घण्टे तक बंद रहा बसों का संचालन

एक तरफ रक्षा बंधन का त्योहार है जिसके चलते रोडवेज बसों पर भारी भीड़ देखने को मिल रही है वहीं पीलीभीत में 3 घंटे तक बसों का संचालन छपरा पीलीभीत डिपो की बस चालकों ने पीलीभीत रोडवेज की आला अधिकारियों पर संगीन आरोप लगाए बस संचालकों का आरोप था कि आला अधिकारी अपने चहेते ड्राइवरों के रूट पर दो ड्राइवर भेजते हैं, वहीं अन्य बसों पर एक ही ड्राइवर भेजा जाता है। सरकार का फरमान मनमर्जी से लागू होता है कभी बसों पर एक ड्राइवर भेजा जाता है तो कभी दो जिससे ड्राइवरों को तमाम परेशानियों का सामना करना पड़ता है। इन परेशानियों से अधिकारियों की मनमर्जी से तंग आकर आज पीलीभीत रोडवेज डिपो के चालकों ने जमकर हंगामा काटा। चालकों ने बस ले जाने से मना कर दिया। लगभग 3 घंटे तक बसों का संचालन बंद होने की सूचना पाकर पीलीभीत एआरएम बीके गंगवार खुद मौके पर आ गए और बमुश्किल चालकों को समझाकर बसों को रवाना किया।

मामले की जानकारी के लिए जब पीलीभीत एआरएम बीके गंगवार से संपर्क साधा गया तो उनका फोन नहीं उठा।